बदमाशों ने किए देवरानी-जेठानी के जेवर पार

Mahendra Rajore

Publish: Jun, 14 2018 06:00:00 PM (IST)

Morena, Madhya Pradesh, India
बदमाशों ने किए देवरानी-जेठानी के जेवर पार

रिश्तेदारी में आयोजित भागवत के भंडारे में निमंत्रण खाने जा रही थीं पीडि़त

मुरैना. बैरियर बस स्टैंड परिसर में बुधवार की सुबह बदमाशों ने देवरानी-जेठानी के जेवर पार कर दिए। महिलाओं का कहना है कि हमको पेय पदार्थ में नशीला पदार्थ मिलाकर कुछ खिला दिया, महिलाओं के पास एक थैला मिला है, उसमें कुछ नकली गहने और कागज की गड्डी रखी थी। इससे लगता है कि बदमाशों के लालच में आने पर महिलाओं के जेवर चले गए। जेवर की कीमत करीब डेढ़ लाख रुपए बताई गई है। पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।
जानकारी के अनुसार पुष्पा पत्नी सत्यप्रकाश राठौर, उसकी जेठानी सुनीता पत्नी महावीर राठौर व महावीर की बच्ची गंजरामपुर से हाइवे केएस फैक्ट्री के पास आयोजित मामा ससुर के यहां श्रीमद भागवत कथा के भंडारे में निमंत्रण खाने जा रही थीं। महादेव नाका से ई रिक्शा में सवार होकर बैरियर तरफ जा रही थीं। बस स्टैंड परिसर में बदमाशों ने इनके जेवर पार कर दिए। पुष्पा व सुनीता का कहना है कि रिक्शा में दो लोग बैठे थे एक छोटा लड़का जिसकी उम्र करीब १७ साल होगी, उसने कहा कि गर्मी पड़ रही है ये ठंडा पी लो, हमने मना किया तो उसने कहा कि तुम मेरी मां के समान हो, मैं मन से पिला रहा हूं तुम्हे पीने में भी परेशानी हो रही है। जैसे ही हमने ठंडा पीया तो हम बेहोशी की हालत में आ गए और बदमाशों ने जेवरानी-जेठानी के सोने के दो मंगलसूत्र, दो अंगूठी, एक जंजीर, चार अंगूठी पार कर दी और रफूचक्कर हो गए, जबकि महिलाओं के पास एक थैला मिला है, वह बदमाशों का ही है। उसमें एक कागज की गड्डी कपड़ा में सिली हुई, आर्टिफिशियल गहने मिले। पुलिस का कहना है कि बदमाशों ने महिलाओं को नोटों की गड्डी दिखाकर झांसा देकर जेवर ठगे हैं। अक्सर ऐसी वारदात हो रही हैं। कागज की गड्डी कपड़े से सिली हुई थी सिर्फ एक हिस्सा कपड़ा फारकर देख लिया जाता है, उसके ऊपर एक असली नोट लगा रहता है। इस वारदात में भी यही हुआ है।
महिलाएं नहीं रहती हैं अलर्ट
बस स्टैंड परिसर में आए दिन इस तरह की वारदात हो रही हैं उसके बाद भी महिलाएं अलर्ट नहीं हो पा रही हैं। बस स्टैंड परिसर में जेवर पार करने की यह पहली वारदात नहीं हैं, इससे पूर्व भी करीब एक दर्जन से अधिक वारदात पूर्व में भी हो चुकी हैं। फिर भी महिलाएं सचेत नहीं हैं।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned