Bharat Bandh 2018 : युवाओं ने जलाए सिंधिया और सीएम शिवराज सिंह के पोस्टर,पुलिस से झड़प,देखे वीडियो

Bharat Bandh 2018 : युवाओं ने जलाए सिंधिया और सीएम शिवराज सिंह के पोस्टर,पुलिस से झड़प,देखे वीडियो

monu sahu | Publish: Sep, 06 2018 02:26:57 PM (IST) Morena, Madhya Pradesh, India

Bharat Bandh 2018 : युवाओं ने जलाए सिंधिया और सीएम शिवराज सिंह के पोस्टर,पुलिस से झड़प,देखे वीडियो

मुरैना। एससी एसटी एक्ट के विरोध में सामान्य व पिछड़ा वर्ग द्वारा छह सितंबर मुरैना बंद का एलान किया है। वहीं प्राइवेट स्कूल व व्यापारिक संगठनों ने भी समर्थन किया है। वहीं प्रशासन ने हर स्थिति से निपटने की पूरी तैयारी कर ली है। दो दिन पूर्व ही धारा 144 लगा दी गर्ई है। बुधवार को कलेक्टे्रट में शांति समिति की बैठक प्रशासन ने चेताया कि बाजार बंद के लिए किसी पर जोर-जबरदस्ती या उपद्रव से सख्ती से निपटा जाएगा। बंद समर्थकों ने पुलिस व प्रशासन पर समानता का व्यवहार करने की बात कही।

बड़ी खबर : बड़ी खबर : BJP के कद्दवर विधायक के बेटे ने मचाया उपद्रव,हिरासत में लेते ही हालत काबू से बाहर,वाहनों में तोडफ़ोड़,See video

इसके बाद भी मुरैना शहर में तो स्थिति शांति पूर्ण रही लेकिन क्षेत्र के दिमनी में एसी एसटी एक्ट के खिलाफ लोगों ने सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया और प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पोस्टर जलाकर जमकर नारेबाजी की। इस दौरान युवाओं की पुलिस से जमकर बहस भी हुई। हालांकि स्थिति काबू के बाहर होती उससे पहले ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और लोगों को समझाइश दी गई। जिसके बाद लोग माने। वहीं मुरैना शहर में भी बाजार पूर्ण रूप से बंद रहा। शहर की अधिकतर सडक़ें खाली रही।

बड़ी खबर : Breaking : युवाओं ने रैली निकाल लगाए मुख्यमंत्री मुर्दाबाद नारे,प्रशासन में खलबली,See video

इससे पहले गुरुवार को हुई बैठक में कलेक्टर, एसपी के अलावा अपर कलेक्टर एस के मिश्रा, एडीशनल एसपी अनुराग सुजानियां सहित अन्य समिति सदस्य मौजूद रहे। कलेक्टर भरत यादव ने कहा कि बाजार बंद के दौरान शांति बनाए रखें। सोशल मीडिया पर निगरानी रखी जाएगी अगर कोई भडक़ाऊ पोस्ट या वर्ग विशेष के प्रति भद्दी टिप्पणी करता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

बड़ी खबर : बड़ी खबर : मंत्री-नेताओं को दिखाए काले झंडे,एक्ट को बताया काला कानून

धारा 144 का पूरी तरह पालन किया जाए कोई हथियार का प्रदर्शन नहीं करेगा, धरना, प्रदर्शन व रैली बिना परमीशन के नहीं कर सकेगा। लोकतांत्रित व्यवस्थाएं बनाएं रहें। लोकतांत्रिक व्यवस्थाएं बनाएं रखें, ऐसे हालात नहीं बनने दें जिससे हमें कार्रवाई करनी पड़े। पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने कहा कि आप लोग अपनी आवाज उठाएं, उसमें कोई दिक्कत नहीं हैं लेकिन कोई ऐसे काम न करें जिससे कानून व्यवस्थाएं बिगड़े। मोबाइल पेट्रोलिंग वाहन चचते रहेंगे। अगर कोई फोर्सली बाजार बंद कराता तो सख्ती से निपटा जाएगा।

बड़ी खबर : Breaking : भाजपा विधायक के बेटे को पुलिस ने लिया हिरासत में,लोगों ने मचाया उपद्रव, देखे वीडियो

निकाला फ्लैग मार्च
शहर में पैदल मार्च करती पुलिस मुरैना. बाजार बंद को लेकर पुलिस प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद है। बंद की सुरक्षा व्यवस्था को लेेकर एडीशनल एस पी अनुराग सुजानियां के नेतृत्व में शहर में फ्लैग मार्च निकाला और लोगों से शांति की अपील की साथ ही रास्ते में मिले संदिग्ध लोगों को हडक़ाया गया।

 

 

SC ST ACT

इन्होंने भी की थी शांति बनाए रखने की अपील
ब्राह्मण अंतर्राष्ट्रीय संगठन के प्रदेशाध्यक्ष देवदत्त मिश्रा ने कहा कि धारा १४४ को बुधवार शाम तक हटाया जाए जिससे हम व्यापारियों से सहयोग की अपील कर सकें। यह हम मानते हैं कि आपके पास फोर्स की ताकत है लेकिन बाजार बंद के दौरान किसी द्वेष भावना से बल प्रयोग हुआ तो हमारे पास भी समाज की ताकत है। ब्राह्मण महासभा के अध्यक्ष दिनेश डंडोतिया ने कहा कि व्यापारिक संगठन व दुकानदारों से हमारी बात हो गई है सभी बाजार बंद रखेंगे। लेकिन जबरन बाजार खुलवाया नहीं जाए।

बड़ी खबर : एट्रोसिटी एक्ट का विरोध: ग्वालियर चंबल संभाग में चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात,पेट्रोल पंप भी बंद

साथ ही बाजार बंद के दौरान दूसरे लोग उपद्रव कर सकते हैं ऐसे में हमारे निर्दोष लोगों के खिलाफ कार्रवाई न हो। एडवोकेट दिनेश सिकरवार सपाक्स समाज ने कहा कि सामान्य व पिछड़ा वर्ग के साथ अन्याय हुआ है। उस अन्याय के खिलाफ बाजार बंद किया जा रहा है उसका हम नैतिक समर्थन करते हैं। पूर्व में देखा गया था कि पुलिस जबरन दुकानों को खुलवाती है। ऐसा न किया जाए। शत्रुघ्न सिकरवार भूतपूर्व सैनिक ने कहा कि प्रशासन को धारा 144 नहीं लगाना चाहिए थी। सरकार ने पहले एट्रोसिटी एक्ट से, अब 144 धारा लगाकर और कल फोर्स से दबाया जाएगा। लेकिन यह तो बताएं कि हम अपनी आवाज कैसे उठाएं।

Ad Block is Banned