बड़ी खबर: कोरोना पॉजीटिव एक और महिला की मौत,१८ और आए पॉजीटिव

- डीआरडीई की सूची के पॉजीटिवों में अधिकांश पूर्व में आए संक्रमितों के परिजन

By: Ashok Sharma

Updated: 26 Jun 2020, 09:59 PM IST


मुरैना. कोरोना पॉजीटिव महिला की ग्वालियर जेएएच में इलाज के दौरान २५ जून की शाम छह बजे मौत हो गई। महिला का मकान मालिक संक्रमित होकर जिला अस्पताल मे उपचाररत है। महिला को २४ जून को ग्वालियर रेफर किया गया था। उधर शुक्रवार को डीआरडीई से आई सूची में १८ और पॉजीटिव आए हैं। उनमें अधिकांश पूर्व में आए पॉजीटिवों के परिजन व संपर्क वाले हैं। तीन लोग नए मरीज हैं उनमें एक नागरिक आपूर्ति का कम्प्यूटर ऑपरेटर व एक सबलगढ़ का व्यवसायी शामिल बताया गया है।
किराना व्यवसायी गिरीश चंद जैन की पत्नी सुनीता ३० वर्ष निवासी भरोषी धर्मशाला रोड मुरैना को २४ जून को सांस लेने में परेशानी हुई तो परिजन जिला अस्पताल ले गए। वहां से ग्वालियर जेएएच के लिए रेफर कर दिया। वहां पहुंचते ही सेंपल लिया गया। २५ जून की शाम महिला की जयारोग्य अस्पताल ग्वालियर में मौत हो गई। वहां संदिग्ध मानकर डैडबॉडी को रख लिया गया। उसकी शुक्रवार को रिपोर्ट पॉजीटिव आयी है। महिला का शव अभी तक जयारोग्य अस्पताल में ही रखा है। उसके साथ उसका पुत्र सहित अन्य लोगों को भी क्वारंटीन किया गया है, उनके भी शनिवार को सेंपल होंगे। उधर डीआरडीई से आई सूची में १८ पॉजीटिव आए हैं, उनमें सबलगढ़ का इलेक्ट्रोनिंक व्यवसायी, पंचायती धर्मशाला के पास रहने वाला नागरिक आपूर्ति निगम का कम्प्यूटर ऑपरेटर, एक दत्तपुरा का मरीज नया है अन्य सभी पुराने कॉटेक्ट वाले हैं। इनमें जिला अस्पताल की नर्स के कॉटेक्ट में आई विवेकानंद कॉलोनी की महिला, गुर्जर कॉलोनी की युवती, एक ४० साल का व्यक्ति और चंबल कॉलोनी की ५८ साल की महिला पॉजीटिव आई है। वहीं आमपुरा से पूर्व में पॉजीटिव आए व्यक्ति के संपर्क वाले तीन परिजन संक्रमित आए हैं। नेहरू पार्क के पास निवासरत पॉजीटिव के दो परिजन संक्रमित आए हैं। दत्तपुरा में पूर्व में पॉजीटिव आए युवक की पत्नी संक्रमित पाई गई है। दो पॉजीटिव नैनागढ़ रोड के रहने वाले हैं, इनके परिवार से पूर्व में पॉजीटिव आ चुके हैं। एक इस्लाम पुरा का रहने वाला है इसके परिवार में भी पूर्व में पॉजीटिव आ चुका था।
पुलिस ने बंद कराई शहर की नाश्ता व मिठाई की दुकान
शहर में बढ़ते कोरोना संक्रमण के चलते शुक्रवार को दोपहर के बाद शहर की मिठाई व नाश्ता की दुकानों को पुलिस ने बंद कराया। प्रशासन ने जब बाजार खोला था तब निर्देश दिए थे कि नाश्ता की दुकान तो खुलेंगी लेकिन पैकिंग सिस्टम रहेगा न कि दुकान पर किसी को नाश्ता खिलाओगे। लेकिन दुकानदार नहीं माने। इन दुकानों पर सुबह से शाम तक मेला सा लग रहा था। इसलिए पुलिस ने सख्ती बरतते हुए दुकानें बंद कराई कुद के चालान भी काटे गए हैं।

Ashok Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned