scriptCaught from home and taken to the police station and registered a case | घर से पकड़कर ले गए थाने और वहां अवैध शराब का किया मामला दर्ज | Patrika News

घर से पकड़कर ले गए थाने और वहां अवैध शराब का किया मामला दर्ज

पुलिस द्वारा लात मारकर किबाड़ तोडऩा और फिर युवक को घसीटकर गाड़ी तक ले जाया गया
सीसीटीवी फुटेज से हुआ मामले का खुलासा

परिजन ने पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को शिकायत भेजकर की कार्रवाई की मांग

मोरेना

Published: February 18, 2022 11:17:21 pm

जौरा/मुरैना. नवागत पुलिस अधीक्षक के अवैध शराब बिक्री को सख्ती से रोकने एवं माफिया के खिलाफ तीखे तेवरों का मातहत अधिकारी किस प्रकार अनुचित लाभ उठा रहे हैं। इसका उदाहरण गुरुवार-शुक्रवार की दरम्यानी रात को जौरा कस्बे में देखने को मिला। यहां पुलिस द्वारा आरोपियों को घर से सोते समय उठाकर ले जाना और उनके पास किसी भी तरह की शराब न मिलना, उसके घर में लगे सीसीटीवी कैमरे में साफ दिखाई पड़ रहा है और उसके बाद भी आरोपियों पर थाने में पहुंचकर आठ पेटी अवैध शराब पकड़े जाने का मामला दर्ज किया गया है। मामले में पुलिस द्वारा शराब तस्करी के आरोपी बनाए युवक एवं उसके परिजनों का कहना है कि पुलिस ने उनके विरोधियों से सांठ-गांठ कर उनके विरुद्व अवैध शराब तस्करी का झूठा मामला दर्ज किया है। परिजन ने अपने कथन की पुष्टि करने वाले सीसीटीवी फुटेज के साथ थाना प्रभारी सहित आला पुलिस अधिकारियों को भेजी गई शिकायत में इंचार्ज थाना प्रभारी सहित उनके तीन अन्य सहयोगी पुलिसकर्मियों के विरुद्व आपराधिक मामला दर्ज किए जाने की मांग की है।
घर से पकड़कर ले गए थाने और वहां अवैध शराब का किया मामला दर्ज
सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ युवक को घर से घसीटकर ले जाती पुलिस।
यहां बता दें कि सीसीटीवी फुटेज में इंचार्ज थाना प्रभारी सहित उनके सहयोगी रात लगभग 11 बजकर 18 मिनट पर पुलिस वाहन से आरोपी के घर पहुंचे। पुलिसकर्मी मकान के मुख्य दरवाजे को लातों से तोड़कर भीतर दाखिल होते दिख रहे हैं। पुलिसकर्मी घर में सो रहे दो युवकों निजाम खां एवं अमन खां को बगैर कपड़ेे पहने ही मारपीट करते हुए घसीट कर ले जाते दिख रहे हैं। पुलिसकर्मी दोनों युवकों के साथ मारपीट करते हुए भी दिख रहे हैं। पीडि़त पक्ष का आरोप है कि पिछले दिनों पुलिस थाना जौरा का प्रभार मिलते ही उपनिरीक्षक अजीत जादौन ने हमारे विरोधियों से सांठ-गांठ कर हमारे खिलाफ शराब तस्करी का झूठा मामला दर्ज किया है। पीडि़त पक्ष ने बताया है कि हमारे परिवार का भूमि विवाद कुछ प्रभावशाली भू-माफियाओं के खिलाफ न्यायालय में चल रहा है। इसी के चलते अपने प्रभाव का उपयोग कर हमारे परिवार के लोगों को परेशान करते रहते हैं। कुछ माह पूर्व देवगढ़ थाने में दर्ज मारपीट का मामला जांच में झूठा साबित हो चुका है।

कहां से लाई गई शराब?

पुलिस द्वारा दर्ज किए गए शराब पकडऩे के इस मामले में मौके से जब शराब नहीं पकड़ी गई तो पुलिस ने आरोपियों को फंसाने के लिए थाने ले जाकर उनसे शराब बरामद किए जाने की कहानी गढ़ी गई। इस मामले को लेकर सवाल यह उठ रहा हैं कि आखिर शराब कहां से आई।

जांच में दोषी पाए जाने पर होगी सख्त कार्रवाई

मामले में पीडि़त परिजन की ओर से पूर्व विधायक महेशदत्त मिश्रा ने पुलिस अधीक्षक आशुतोष बागरी को घटना के सीसीटीवी फुटेज भेजते हुए मामले की वास्तविकता से अवगत कराया। इस मामले में पुलिस अधीक्षक ने दूरभाष पर चर्चा करते हुए बताया कि उन्होंने मामले की जांच कराने के निर्देश दिए हैं। मामले में यदि कोई पुलिसकर्मी दोषी साबित होगा तो उसे बख्शा नहीं जाएगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

द्वारकाधीश मंदिर में पूजा के साथ आज शुरू होगा BJP का मिशन गुजरात, मोदी के साथ-साथ अमित शाह भी पहुंच रहेRajasthan: एंटी करप्शन ब्यूरो की सक्रियता से टेंशन में Gehlot Govt, अब केंद्र की तरह जांच से पहले लेनी होगी अनुमतिVIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्ममां की खराब तबीयत के बावजूद बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे ओबेड मैकॉय, संगकारा ने जमकर की तारीफदिल्ली में डबल मर्डर से सनसनी! एक की चाकू से गोदकर हत्या, दूसरे को गोली मारीRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चEncounter In Ghaziabad: बदमाशों पर कहर बनकर टूटी पुलिस, एक रात में दो इनामी अभियुक्तों को किया ढेरपाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने अलापा कश्मीर राग कहा- शांति सुनिश्चित करने के लिए धारा 370 को करें बहाल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.