कलेक्टर ने ठेले वालों से कहा, आप बताएं कहां ठीक रहेगा स्थान

- शहर को सुंदर, सुव्यवस्थित बनाने के लिये हाथ ठेलों को हॉकर्स जोन में शिफ्ट करने की फिर से कवायद
- कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने हनुमान चैराह पहुंचकर लिया जायजा

By: Ashok Sharma

Published: 04 Mar 2021, 09:35 PM IST

मुरैना. शहर सुंदर एवं सुव्यवस्थित रूप से दिखे। इसके लिये नगर निगम व एसडीएम तथा पुलिस द्वारा विशेष ध्यान देने की जरूरत है। अधिकारी पूरी प्लानिंग के साथ हनुमान चैराह पर लगने वाले हाथ ठेलों को व्यवस्थित रूप से शिफ्टि करायें, जिससे हाथ ठेलों को अपना व्यापार करने में रोज-रोज हाथ ठेला हटाने की परेशानी उत्पन्न न हो। ये निर्देश कलेक्टर बी. कार्तिकेयन और पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पाण्डेय ने गुरूवार को नगर भ्रमण के समय अधीनस्थ अधिकारियों को दिये। भ्रमण के समय नगर निगम कमिश्नर अमरसत्य गुप्ता, एसडीएम, संबंधित थाना प्रभारी व ट्रैफिक प्रभारी उपस्थित थे।
कलेक्टर ने हनुमान चौराहे पर पहुंचकर वहां लगने वाले हाथ ठेला स्थल का मौका मुआयना किया। कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक रूई की मंडी में पहुंचे। जहां हाथ ठेलों वालों से कलेक्टर ने पूछा कि आप लोग बताएं कहां ठीक रहेगा जहां व्यवस्थित रूप से ठेले लगाए जा सकें। तब ठेलेे वालों ने कहा कि यहां लोडिंग वाहन परेशान करते हैं इसलिए हमारे ठेले तो भूत बंगला में लगवा दो, यह भूत बंगला कलेक्टर बंगले के सामने स्थित है। हनुमान चैराहे पर लगभग 700 हाथ ठेला लगाये जाते है। इस पर कलेक्टर ने एसडीएम, नगर निगम कमिश्नर, पुलिस के संयुक्त रूप से बैठकर कार्ययोजना बनाने तथा हाथ ठेले वालों का पंजीयन कराने के बाद उन्हें स्थल का चयन करायें। कलेक्टर ने पीडब्ल्यूडी, नगर निगम के बगल में लगने वाले ठेला स्थल, मेला ग्राउण्ड के सामने हॉकर्स जोन स्थल का निरीक्षण किया। अधिकारियों ने कलेक्टर बंगले के सामने टैक्सी स्थल को सहमति के आधार पर मेला ग्राउण्ड में शिफ्ट करने का आश्वासन टैक्सी संचालकों को दिया।
अधिकारियों के पहुंचने से पूर्व निगम ने हटाए हाथ ठेला ......
हनुमान चौराहे पर अधिकारियों के पहुंचने से कुछ समय पूर्व स्थिति यह थी पैदल निकलना मुश्किल था लेकिन अधिकारियों के भ्रमण की सूचना पर नगर निगम ने आनन फानन में हनुमान चौराहे से हाथ ठेले वालों को हटाकर रुई की मंडी में शिफ्ट किया। इससे पूर्व भी कई बार नगर निगम हाथ ठेले वालों को हनुमान चौराहे से हटा चुका है लेकिन उनको हॉकर्स जोन में शिफ्ट नहीं किया जाता इसलिए कुछ दिन बाद लौटकर हनुमान चौराहे पर फिर से पहुंच जाते हैं।
गाड़ी वालों का स्थायी कब्जा....
हनुमान चौराहे से ओवरब्रिज तक और उधर झंडा चौक, शंकर बाजार में कुछ दुकानदारों ने अपनी अपनी कार स्थायी रूप से पार्क कर दी हैं। नगर निगम व प्रशासन गरीब ठेले वालों को तो चाहे जब हटवा देता है लेकिन इन रसूकदारों की गाडिय़ां को नहीं हटवा सका। जो महीनों से एक ही जगह पर खड़ी हैं। इन गाडिय़ों पर कवर डालकर ऐसी रख दिया है जैसे किसी घर में रखी हों, इनको हटाने से पार्किंग पूरी तरह साफ हो जाएगी।

Ashok Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned