माथे पर किया टीका, पढ़े मंत्र और ले गया लाखों के जेवर

कुछ माह से किन्नर बनकर गांव में आ रहा था आरोपी

By: rishi jaiswal

Updated: 26 Dec 2020, 11:20 PM IST

मुरैना. स्टेशन रोड थाना क्षेत्र के डब्बू का पुरा से किन्नर बनकर आया एक आरोपी ग्रह नक्षत्र शांत करने के नाम पर लाखों रुपए के सोने चांदी के जेवर समेटकर ले गया। पुलिस ने बृजबल्लभ पुत्र लक्ष्मण सिंह कुशवाह की रिपोर्ट पर भादंसं की धारा 420, 406 के तहत मामला दर्ज किया है।

फरियादी ने रिपोर्ट की है कि 21 दिसंबर को दोपहर 12 बजे की बात है वह घर के पास अपने खेत में काम कर रहा था। घर पर उसका लडक़ा अवधेश कुशवाह और बहू पिंकी कुशवाह थे। तभी घर पर एक किन्नर जिसका सुना हुआ नाम बबली आया और उसके लडक़े व बहू से कहने लगा कि आप लोगों पर ढैया शनि का प्रकोप है और आपके घर में एक महीने में मौत होने वाली है।

मैं तुम्हारे घर को पूजा मंत्र पाठ करके सही कर दूंगा और कोई आंच नहीं आएगी। फिर उसने मेरे लडक़े से हल्दी पानी और साफ कपड़े मंगाए। मेरे लडक़े ने ये सामान लाकर दिया। किन्नर ने सभी सामान को अपने हाथ में लेकर कुछ मंत्र पढ़े फिर उसने मेरे लडक़े से गहने लाने को कहा और बोला मुझे तुम्हारे गहने भी शुद्ध करना पड़ेगे तभी शनि का प्रकोप हटेगा। तब मेरे लडक़े ने उसे घर से सोने का मंगलसूत्र, अंगूठी, कान के बाला, बेसर व चांदी के पायजेब व करधनी लाकर दे दिए। फिर किन्नर ने सभी गहने साफ कपड़े में बांध लिए।

उसने हल्दी पानी मिलाकर मेरे लडक़े व बहू के टीका किया और उसने अपने पास से माला निकालकर कुछ मंत्र जैसे पढऩे लगा उसके बाद उसके लडक़ा व बहू को होश नहीं रहा और वह किन्नर छलपूर्वक सभी गहने लेकर चला गया। यहां बता दें कि किन्नर पिछले तीन चार महीने से गांव में कोई भी आयोजन शादी बगैरह हुए उनमें नाच गाना गाकर पैसे ले जाता था इसलिए उसको गांव के लोग जानते थे। जबकि वह किन्नर नहीं था वह कोई बहुरुपिया बताया गया है। वह पहले सुभाष नगर और फिर खडिय़ाहार में रहने लगा। पुलिस ने दोनों जगह तलाश कर लिया, वहां से वह भाग गया है। उसका मूल निवास उप्र का बताया गया है।

Show More
rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned