डीपी फुंकी, रातभर अंधेरे में रहे आधा सैकड़ा परिवार

15 घंटे बाद बहाल हो सकी बिजली सप्लाई

मुरैना. नैनागढ़ रोड काली माता मंदिर के पास स्थित ट्रांसफॉर्मर मंगलवार की रात नौ बजे फुंक गया, जिससे करीब आधा सैकड़ा परिवार की बिजली आपूर्ति ठप हो गई। रहवासियों ने अधिकारियों को फोन लगाए, मोबाइल रिसीव नहीं हुए और बिजली घर गए तो वहां कर्मचारी सोते हुए मिले। लोग रात भर अंधेरे में रहे, सुबह पानी के लिए परेशान हुए। बड़ी मशक्कत के बाद 15 घंटे बाद बिजली आपूर्ति चालू हो सकी।


मंगलवार की रात नौ बजे अचानक बिजली चली गई। कुछ घंटे तक लोगों ने इंतजार किया कि लाइनमेंन आकर दुरस्त कर देंगे तो लाइट आ जाएगी लेकिन जब देर रात तक बिजली सप्लाई शुरू नहीं हुई तो रहवासी बिजली घर गए तब वहां से पता चला कि ट्रांसफॉर्मर फुंक गया है, सुबह होने पर बदल सकेगा। इस डीपी के फुंकने से नैनागढ़ रोड का एक हिस्सा, धर्मशाला के आगे व पीछे वाली गली सहित आसपास के दर्जनों घरों की बिजली सप्लाई प्रभावित रही।


दिन में कई बार आती जाती रही बिजली


केशव कॉलोनी में भी बुधवार को बिजली की समस्या रही। यहां सुबह 11 बजे बिजली सप्लाई बंद हुई जो करीब दो घंटे बाद वापस आई और कुछ देर बाद फिर चली गई। इस तरह दिन भर आती जाती रही।


यहां भी फुंका ट्रांसफॉर्मर
जौरा में ऑफीसर कॉलोनी के पास स्थित ट्रांसफॉर्मर बुधवार फुंग गया, जिससे नया बाजार, चंद्रशेखर आजाद रोड, श्री कृष्ण मंदिर रोड, बनियापांडा, ऑफिसर कॉलोनी सहित अन्य गली मोहल्लों की विद्युत आपूर्ति ठप हो गई। नागरिक परेशान रहे। सब्जी मंडी से लेकर अस्पताल रोड पर भी केवल फॉल्ट होने से आपूर्ति ठप रही। आंधी तूफान से विद्युत लाइनों में हुए भारी नुकसान के बाद स्थिति यह थी कि जब विद्युत कर्मचारी एक जगह पर सही करके आते थे तो तत्काल दूसरी जगह से खबर आती थी कि वहां फॉल्ट हो गया है केवल जल गई है तार चिपक रहे हैं। जब विद्युत कर्मचारी दूसरी जगह फाल्ट सही करने जाते जैसे ही विद्युत आपूर्ति बहाल होती बाहर होते ही तीसरी जगह से तत्काल फॉल्ट की खबर मिलती। प्रबंधक अनिल कुमार सिंह एवं सहायक प्रबंधक निलेश धुर्वे बराबर कर्मचारियों के साथ फॉल्ट वाले स्थानों पर कार्य कराते देखे गए।

Show More
महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned