हर किसान को मिलेगा मुआवजा

112.83 करोड़ की है आसन बैराज परियोजना

By: rishi jaiswal

Published: 27 Jul 2020, 11:23 PM IST

मुरैना. प्रदेश के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री ऐदल सिंह कंषाना ने कहा कि आसन बैराज डैम से जो भी जमीन डूब में आ रही है, उन किसानों का सर्वे हो चुका है। उन्हें मुआवजा शीघ्र मिलेगा। जो भी किसान किसी वजह से छूट गए हैं उनका दोबारा सर्वे करवा लिया जाएगा। कोई भी वास्तविक हकदार किसान मुआवजे से वंचित नहीं रहने दिया जाएगा। वे सुमावली विधानसभा के ग्राम घसटुआ में आयोजित जन समस्या निवारण शिविर में बोल रहे थे। कलेक्टर प्रियंका दास उनके साथ पहुंचीं।

कंषाना ने लोहा बसई, धमकन, बंधपुरा, बघेल का पुरा, सिघौंरा, ठेह, कैमारी, घसटुआ, इटावली से आए ग्रामीणों से कहा कि कोई चिंता करने की जरूरत नहीं है। आसन बैराज डैम पुल बनाने के लिये 25.58 लाख रुपए का टैंडर जारी हो चुका है। शीघ्र ही प्रक्रिया आगे बढ़ेगी।

उन्होंने कहा कि किसी भी किसान को चिंता करने की जरूरत नहीं है। उनके हक का मुआवजा उन्हें जरूर मिलेगा। कलेक्टर प्रियंका दास ने कहा कि नियमानुसार सभी किसानों को मुआवजा मिलेगा। इस प्रकार के शिविर आगे भी लगाए जाएंगे ताकि समस्याओं का निदान गांव स्तर पर ही और प्रभावी तरीके से हो सके।

कलेक्टर ने बताया कि पहले सर्वे किया गया था। इसमें जिसमें 8.44 करोड़ रुपए का वितरण रह गया है। इसे 15 अगस्त से पहले वितरित करवा दिया जाएगा। डैम बन जाने से फिर सर्वे दल गठन करेंगे। सर्वे की वीडियोग्राफी कराई जाएगी। जो गांव चिह्नित किए गए हैं, उनका सर्वे होगा। उन्होंने कहा कि नए सर्वे में कोई भूमि आ रही है, उसका पूरक पत्रक बनाकर भेजा जाएगा और बजट मिलने पर वितरण किया जाएगा।

भू-अर्जन और पुनर्वास का कार्य प्रगति पर

कार्यपालन यंत्री सिंचाई ओपी गुप्ता ने बताया कि आसन बैराज परियोजना पर 112.83 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं। सुमावली के पास आसन नदी पर इस परियोजना को प्रशासकीय स्वीकृति मप्र शासन जल संसााधन विभाग ने 12 मई 2016 को दी थी। बैराज के निर्माण की 8.45 करोड़ है। धमकन ग्राम के पास आसन नदी पर उ‘च स्तरीय पुल निर्माण 26.&1 करोड़ रुपए और बाकी राशि भू-अर्जन पुनर्वास खर्च करने को है। बैराज का निर्माण कार्य पूर्ण हो गया है। भू-अर्जन एवं पुनर्वास का कार्य प्रगति पर है।

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned