सरकार नीतियों पर जताया आक्रोश

वर्तमान में पूंजीपति व सामंती गठबंधन की सरकार: पूर्व विधायक

By: rishi jaiswal

Published: 18 Sep 2020, 11:14 PM IST

कैलारस. वामपंथी नेता बहादुर सिंह धाकड़ की स्मृति में आयोजित संकल्प सभा को संबोधित करते हुए अखिल भारतीय किसान सभा के संयुक्त सचिव बादल सरोज ने कहा कि मोदी सरकार ने कोरोना काल का अवसर के रूप में उपयोग करते हुए खेती किसानी पर हमला किया है। मंडी व्यवस्था समाप्त करने, ठेका खेती लागू करने, जमाखोरी को छूट देने संबंधी कानून संसद में पारित किए गए हैं। इससे बदहाल होते किसान और तबाह हो जाएंगे। बर्बाद होती खेती नष्ट हो जाएगी।

उन्होंने कहा कि इसके खिलाफ हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश सहित देशभर के किसान 25 सितंबर को जुझारू आंदोलन करेंगे। साथ ही बादल ने कहा कि सरकार विरोध की हर आवाज को दबाना चाहती है। हाल ही में मुख्य हस्तियों पर तथाकथित फर्जी मुकदमे दर्ज किए जाने के कुत्सित प्रयास किया गया। जिसकी उन्होंने निदंा की और विरोध करने का आह्वान किया।

संकल्प सभा को संबोधित करते हुए समाजवादी नेता, पूर्व विधायक, चंबल विकास समिति के संयोजक बाबू सूबेदार सिंह ने कहा कि वर्तमान में पूंजीपति व सामंती गठबंधन की सत्ता है, हमें इसे हटाना होगा। सभा को मध्य प्रदेश किसान सभा के प्रदेश उपाध्यक्ष अशोक तिवारी ने भी संबोधित किया। अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति की जिला अध्यक्ष्र सुमन शर्मा ने सरकार की नाकामी व महिलाओं की स्थिति पर भाषण दिया। सचिव दयाराम सिंह धाकड़, जिला सचिव मंडल सदस्य महेश प्रजापति ने कोरोना काल में जनता की तकलीफों को रेखांकित किया। सभा में पूर्व व्यापार मंडल अध्यक्ष राजेश गुप्ता, माकपा जिला समिति सदस्य ओमप्रकाश श्रीवास, एसएफआई के प्रांतीय सचिव राजवीर सिंह ने भी अपने विचार प्रस्तुत किए। संकल्प सभा में पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष राकेश यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधि द्वारा प्रेषित शुभकामना संदेश भी रखे गए। अध्यक्षता राम सिंह पटेल, गंगाराम सिंह ने की। संकल्प सभा में शामिल में महिला और पुरुषों ने जनता की लड़ाई को आगे बढ़ाने का संकल्प दोहराया।

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned