पहले सेनेटाइज करो हाथ, तब मिलेगा घर में प्रवेश

कोरोना वायरस के संक्रमण की आशंका के चलते लोग किसी भी तरह का खतरा लेने को तैयार नहीं हैं। यही वजह है कि बाजारों में सेनेटाइजर की खरीद लगातार जारी है। लोग इतने जागरुक तो हो ही चुके हैं कि वे सेनिटाइजेशन का खास खयाल रख रहे हैं।

मुरैना. कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर अब लोग भी सजग हो गए हैं। अधिकांश घरों में लोगों ने सेनिटाइजेशन के इंतजाम कर लिए हैं और स्वच्छता का खयाल भी रख रहे हैं। यहां तक कि लोग बाहर से आने वाले परिवार के सदस्यों को भी सेनिटाइजेशन के बाद ही घर में प्रवेश करने दे रहे हैं।

कोरोना वायरस के संक्रमण की आशंका के चलते लोग किसी भी तरह का खतरा लेने को तैयार नहीं हैं। यही वजह है कि बाजारों में सेनेटाइजर की खरीद लगातार जारी है। लोग इतने जागरुक तो हो ही चुके हैं कि वे सेनिटाइजेशन का खास खयाल रख रहे हैं।

इस बात का अहसास गुरुवार को शहर के विभिन्न इलाकों में लोगों को द्वार पर ही सेनिटाइजर का उपयोग करते देखकर हुआ। खास बात यह कि देर से ही सही, लेकिन अब लोग होम आइसोलेशन का महत्व भी समझने लगे हैं। यही वजह है कि वे घर से बाहर कम ही निकल रहे हैं।

केस-1

शहर की संजय कॉलोनी में एसएएफ जिम के पीछे रहने वाले रामेन्द्र सिंह बैस का बेटा अनुराग गुरुवार को सुबह बाजार में सामान खरीदने गया था। जब वह वापस आया तो उसके पिता ने सबसे पहले दरवाजे पर ही उसके हाथों को सेनिटाइज किया। इसके बाद ही उसे घर में प्रवेश करने दिया गया। उन्होंने बताया कि उनके घर के सदस्य लगातार सेनिटाइजर का उपयोग कर रहे हैं।

केस-2

ऐसा ही नजारा तुलसी कॉलोनी में भी एक मकान के दरवाजे पर देखने को मिला। वहां रहने वाले बृजेश सक्सेना जब बाहर से लौटकर आए तो उनके परिवार के सदस्यों ने पहले उनके हाथों को साबुन से धुलवाया और फिर सेनिटाइजर भी दिया।

यही नहीं बृजेश के हाथ में जो दस्तावेज थे, उन पर भी उन्होंने सेनिटाइजर डाला। उन्होंने ड्यूटी पर जा रहे एक पुलिस कर्मचारी के हाथों को भी सेनिटाइज किया।

संक्रमण की आशंका के चलते अब लोग सेल्फ चेकअप के लिए भी आगे आने लगे हैं। गुरुवार को शहर के स्टेडियम के पास दिल्ली से आए निबी गांव के दो युवक अस्पताल का पता पूछकर जांच कराने पहुंचे। ग्वालियर से आए एक युवक व युवती भी परीक्षण के लिए अस्पताल का पता लोगों से पूछते नजर आए।

मुरैना. लॉकडाउन के दौरान आमजन की सुविधा के लिए तय किए गए इंतजामों की जानकारी भी प्रशासन शिद्दत से दे रहा है। इसके लिए शहर के विभिन्न स्थानों पर अधिकांश होर्डिंग्स पर विस्तृत जानकारी वाले बैनर लगा दिए गए हैं। बैनरों पर बताया गया है कि जरूरत का सामान कब और कहां मिलेगा।

इसके अलावा खास दुकानों से राशन की होम डिलीवरी की सुविधा तथा 24 घंटे खुली रहने वाली दवा की दुकानों के नाम भी बैनरों पर लिखवाए गए हैं।

rishi jaiswal
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned