शराब फैक्ट्री का मिला प्वार्ईंंट फिर भी भाग एग आरोपी

कार सहित कुल सामान 4.87 लाख रुपए से अधिक का।

By: rishi jaiswal

Published: 16 Sep 2020, 11:43 PM IST

मुरैना. दिमनी थाना क्षेत्र के मिरघान गांव से अवैध शराब बनाने की फैक्ट्री पकड़ी गई है। यहां से बड़ी मात्रा में अवैध शराब व शराब बनाने की सामग्री जब्त की गई है, जबकि आरोपी मौके से फरार हो गए।

एसपी अनुराग सुजानिया को सूचना मिली कि मिरघान में बंटी उर्फ महेन्द्र सिंह पुत्र शिवराम सिंह भदौरिया अपने मकान के अंदर अवैध शराब की फैक्ट्री लगाकर शराब बना कर बिक्री कर रहा है। एसपी के निर्देश पर पुलिस ने सिहोनिया थाना प्रभारी जितेन्द्र शर्मा, माता बसैया थाना प्रभारी महेश शर्मा मय फोर्स के रवाना होकर बंटी भदौरिया के घर पहुंचे। जहां देखा तो बंटी अपने अन्य दो साथियों के घर के अंदर आंगन में अवैध शराब का निर्माण कर रहा था। जो पुलिस फोर्स को देखकर साथियों सहित बाउंड्री से कूद कर अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गया।

पुलिस ने यह किया बरामद

आरोपी के आंगन के एक कॉर्नर में 140 पेटी प्लेन देशी मदिरा रखी मिली। प्रत्येक पेटी में 50-50 क्वाटर देशी शराब के रखे थे। तीन नीले रंग के प्लास्टिक के ड्रम मिले जिनमें ओपी भरी होना पाया गया। जिसकी कीमत करीब डेढ़ लाख रुपए बताई गई। एक खाली नीले रंग का प्लास्टिक का ड्रम जिसमें सफेद रंग की टोंटी लगी हुई थी जो खाली क्वाटर में शराब भरने के काम आता था। एक पीतल की परात, एक मशीन लोहे जो शराब के क्वाटर पैक करने के काम आती है। दो प्लास्टिक के सिले हुए बड़े बैग जिसमें खाली प्लास्टिक के क्वाटर भरे हुए हैं। बड़ी संख्या में ढक्कन, नीला पावडर 20 पाउच, एक होलोग्राम का रोल जिसमें गोल्डन कलर के क्वाटर के ढक्कन चिपकाने के होलोग्राम स्टीकर मिले। गैलरी में एक कार रखी मिली जिसमें 10 पेटी प्लेन देशी शराब, एक प्लास्टिक बैग जिसमें खाली क्वाटर भरे थे। जब्त शराब की कीमत 487500 रुपए बताई गई है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ आबकारी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। मिरघान में अवैध शराब का काम करते हुए तस्कर बंटी भदौरिया पूर्व में भी पकड़ा जा चुका है। उसके बाद भी पुलिस ने उस पर नजर नहीं रखी।

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned