scriptFour hours jam for 12 km, hundreds of vehicles stuck | १२ किमी तक चार घंटे रहा जाम, फंसे रहे सैकड़ों वाहन | Patrika News

१२ किमी तक चार घंटे रहा जाम, फंसे रहे सैकड़ों वाहन

- न पानी न छाया, तड़पते रहे यात्री
- दूर दूर तक दिखाई नहीं दी पुलिस, इसलिए परेशान रहे लोग

मोरेना

Published: April 23, 2022 09:09:21 pm

मुरैना. निरार माता को जाने वाले सैकड़ों वाहन चार घंटे तक जाम में फंसे रहे। १२ किमी के लंबे जाम के चलते दर्शनार्थियों की हालत बेहद खराब हो गई। जाम ऐसी जगह लगा जहां न छाया और न पानी। बच्चे, बुजुर्ग व महिलाओं को बेहद परेशानी हुई। बुजुर्ग रामस्वरूप ने कहा कि हम ३० साल से लगातार निरार माता मेला में आ रहे हैं, ऐसा जाम पहले कभी नहीं देखा। पगारा डेम से लेकर मोठिया पुरा की घाटी तक एक भी जल स्रोत और न प्याऊ कुछ भी नहीं था। तेज धूप में सिर छिपाने के लिए कोई पेड़ भी नहीं था। विडंवना इस बात की है कि निरार माता मंदिर से पगारा डेम तक पुलिस का एक सिपाही भी नहीं था। जाम में फंसे लोगों ने पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से मदद की गुहार की तब कहीं पुलिस पहुंची और दोपहर १२ बजे जाम कुछ देर के लिए खुल गया और जो वाहन चार घंटे से फंसे थे, वह निकल सके। मंदिर के महंत मातादीन भगत ने बताया कि बैशाख कृष्ण पक्ष में पंचमी से सप्तमी तक तीन दिन का निरार माता मंदिर पर मेला लगता है। इसमें अपार भीड़ उमड़ती है। मेला तो तीन दिन का ही रहता है लेकिन चतुर्थी से ही लोगों का आना जाना शुरू हो जाता है और नवमीं तक मंदिर पर भीड़ रहती है। इस दौरान बड़ी संख्या में नेजा चढ़ाए जाते हैं।
प्रशासनिक उपेक्षा का शिकार मेला
निरार मेला को लेकर प्रशासनिक उपेक्षा किसी बड़े हादसे को जन्म दे सकता है। इस मेला का समय तय था तो प्रशासन ने यहां कोई व्यवस्था क्यों नहीं कीं। सुरक्षा की दृष्टि से मंदिर व उसके आसपास पुलिस फोर्स भी नहीं रहता। शनिवार को यहां देखने को मिला। अगर पुलिस होती तो चार घंटे जाम में सैकड़ों वाहन और हजारों लोग फंसे रहते।
कुल्फी से बुझाई प्यास तो किसी ने जौरा से मंगाया पानी
निरार माता के रास्ते में लगे जाम में फंसे लोग प्यास से तड़पते दिखे। यहां कुछ लोगों ने कुल्फी खाकर प्यास कम की। कुल्फी वाले मोटरसाइकिल से निरार मेले में जा रहे थे चूंकि वह निकल नहीं सके तो उन्होंने वहीं अपनी दुकानदारी शुरू कर दी और घंटों बिकने वाली कुल्फी कुछ ही देर में समाप्त हो गई। वहीं कुछ लोगों ने जौरा में अपने रिश्तेदार व परिचितों को फोन करके पानी की बोतल व केन मंगवाई, तब कहीं उनके प्राण बच सके। अगर पानी की कमी से केजुअल्टी होते होते बची।
१२ किमी तक चार घंटे रहा जाम, फंसे रहे सैकड़ों वाहन
१२ किमी तक चार घंटे रहा जाम, फंसे रहे सैकड़ों वाहन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टोक्यो पहुंचे, भारतीय प्रवासियों ने किया स्वागत, जापानी बच्चे के हिन्दी बोलने पर गदगद हुए PMदिल्ली-NCR में सुबह आंधी और बारिश से कई जगह उखड़े पेड़, विमान सेवा प्रभावितज्ञानवापी मामले के बीच गोवा के सीएम का बड़ा बयान, प्रमोद सावंत बोले- 'जहां भी मंदिर तोड़े गए फिर से बनाए जाएं'BJP को सरकार बनाने के लिए क्यों जरूरी है काशी और मथुरा? अयोध्या से बड़ा संदेश देने की तैयारीबेल्जियम, पहला देश जिसने मंकीपॉक्स वायरस के लिए अनिवार्य किया क्वारंटाइनएशिया कप हॉकी: पहले ही मैच में भिड़ेंगे भारत और पाकिस्तान, ऐसा है दोनों टीमों का रिकॉर्डआख़िर क्यों असदुद्दीन ओवैसी बार-बार प्लेसेज ऑफ़ वर्शिप एक्ट की बात कर रहे हैं, जानें क्या है यह एक्टकपिल देव के AAP में शामिल होने की चर्चा निकली गलत, सोशल मीडिया पर पूर्व कप्तान ने खुद साफ की स्थिति
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.