गूंगी बहरी लडक़ी से गैंगरेप, पेट में दो माह का बच्चा भी

मामला महुुआ थाना क्षेत्र के गुढ़े का पुरा का
- पोरसा के बड़ा पुरा में चचेरी बहन के देवर ने अपहरण कर किया बलात्कार

By: Ashok Sharma

Published: 23 Apr 2020, 08:53 PM IST


मुरैना. महुआ थाना क्षेत्र के गुढ़े का पुरा में नामजद तीन आरोपियों ने गांव की गूंगी बहरी १६ साल की लडक़ी के साथ दो माह पूर्व गैंगरेप किया। जब लडक़ी उल्टी होने लगी तो उसका चेकअप कराया तब पता चला। जब किशोरी से पूछा तो उसने इशारे में गांव के तीन लडक़ों के नाम बताए। महुआ पुलिस ने किशोरी की बहन की रिपोर्ट पर आरोपी राजू लोधी, ब्रजेश लोधी निवासी गुढ़े का पुरा व बबलू जो बाहर से आया है और ब्रजेश के घर रहता है के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज किया है।
पीडि़ता की बहन ने थाने में रिपोर्ट की है कि मैं अपनी ससुराल पीपरी थाना बरोही में रहती हू और मेरी छोटी बहन पिताजी के साथ गुढ़े का पुरा में रहती है। वह गूंगी बहरी है सिर्फ इशारों से बात करती है। २० अपै्रल को मेरे चचेरे भाई की पत्नी यानि कि मेरी भाभी ने मुुझे फोन करके बताया कि तुम्हारी छोटी बहन को उल्टी हो रही हैं और उसका पेट भी बढ़ा हुआ है मुझे लगा कि गायत्री के पेट में बच्चा है। तब मैं २२ अप्रैल को गुढ़े का पुरा आयी और अपनी बहन से इशारों में बात करके घटना के बारे में पूछा तो गायत्री ने इशारे से बताया कि दो महीने पहले रात साढ़े आठ बजे मैं भैंस बांधने गांव से बाहर गौंड़ा में गयी थी तो वहां तीन लडक़े आ गए और मेरा हाथ पकड़ा, खींचकर गौंड़ा में बनी झोपड़ी के पीछे ले गए फिर मुझे जमीन पर पटक कर मेरे साथ बारी बारी से बुरा काम किया। इशारे से बात की तो उसने तीनों आरोपियों के नाम कागज पर लिख कर बताए। बाद में उन लडक़ों के फोटो दिखाए तो पीडि़ता ने उनको पहचान लिया।
चचेरी बहन के देवर ने अपहरण कर किया बलात्कार
मुरैना. पोरसा थाना क्षेत्र के बड़ापुरा की एक किशोरी को उसकी चचेरी बहन का देवर शादी का झांसा देकर अपहरण कर खेरागढ़ उप्र ले गया वहां उसके साथ दुष्कृत्य किया। जब किशोरी ने शादी की कहा तो उसने मना कर दिया। पोरसा पुलिस ने किशोरी की रिपोर्ट पर आरोपी रविन्द्र परमार निवासी राजाखेड़ा उप्र के खिलाफ भादंसं की धारा ३६३, ३६६, ३७६, ५०६ व पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।
पुलिस के अनुसार पीडि़ता की चचेरी बहन राजाखेड़ा में ब्याही है। उसका देवर रविन्द्र परमार १९ अप्रैल को बड़ा पुरा आया और किशोरी को बहला फुसला कर अपहरण कर ले गया। राजखेड़ा में उसके साथ दुष्कृत्य किया। २३ अप्रैल को उसको बड़ा पुरा छोड़ गया। जब आरोपी से पीडि़ता ने शादी की कही तो उसने शादी करने से इंकार कर दिया और धमकी दी कि अगर रिपोर्ट की तो जान से मार दूंगा। खास बात यह है कि लॉक डाउन के चलते सीमाएं सील हैं, चारों तरफ नाकाबंदी है फिर भी आरोपी पीडि़ता को उ प्र ले गया और वापस भी छोड़ गया। पुलिस की नाकाबंदी पर सवाल खड़े हो रहे हैं।

Ashok Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned