सब्जी मंडी में हुई शराब तस्करों में गैंगवार, तीन पकड़े

- केशव कॉलोनी में दिन दहाड़े फायरिंग, सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए बदमाश

By: Ashok Sharma

Published: 03 Mar 2021, 08:09 PM IST


मुरैना. शहर में गुंडातत्व हावी है, कब कहां फायरिंग हो जाए और कहा नहीं जा सकता। पिछले दो दिन से लगातार फायरिंग की वारदात हो रही हैं। बदमाश व पुलिस के बीच तू डाल डाल मैं पात पात वाली कहावत चरितार्थ हो रही है। मंगलवार की रात को सब्जी मंडी में शराब तस्करों के दो गुटों में गैंगवार हुई। एक युवक घायल है, उसकी गाड़ी भी फोड़ दी। वहीं बुधवार की दोपहर में शहर की केशव कॉलोनी की शंकर गली में तीन बाइक सवार बदमाशों ने फायरिंग कर दहशत फैला दी। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की पड़ताल की।
जानकारी के अनुसार शहर के सब्जी मंडी में मंगलवार की रात करीब साढ़े दस ग्यारह बजे की घटना हैं। यहां शराब तस्करों के दो गुटों के मारपीट हुई, फायरिंग की भी खबर है लेकिन पुलिस फायरिंग की वारदात से इंकार कर रही है। सूचना मिलने पर कोतवाली टी आई आरती चराटे पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंची और वहां से लोकू उर्फ लोकेन्द्र गुर्जर, सतेन्द्र गुर्जर, दीपे उर्फ दीपक गुर्जर को कट्टा सहित गिरफ्तार किया है। तीनों आरोपी कट्टा लिए हुए थे। खबर है कि ये आरोपी दीपक शर्मा जो घायल होकर जिला अस्पताल में भर्ती है, उसको बचाने गए थे। दीपक की नई कार भी आरोपी रवि किरार, प्रदीप किरार व दस बारह अन्य लोगों ने लाठी, डंडों से क्षतिग्रस्त कर दी है। जिला अस्पताल में भर्ती दीपक शर्मा का कहना हैं कि प्रदीप किरार अवैध शराब बेचने का काम करता है। एक महीने पहले मैंने उससे शराब ली थी, उस समय तीन हजार रुपए दे दिए थे सात हजार और रह गए थे। उन पैसों को देने के लिए प्रदीप किरार ने मुझे सब्जी मंडी में बुलाया था। लेकिन वहां प्रदीप के साथ करीब १५ लडक़े और आए जिन्होंने मेरी मारपीट की और मेरे सात हजार रुपए, मोबाइल व एटीएम कार्ड भी छुड़ा लिया। एक अन्य आरोपी रवि किरार का भाई डीएसपी है इसलिए पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है।
केशव कॉलोनी में दिन दहाड़े फायरिंग
शहर की केशव कॉलोनी में बुधवार की दोपहर करीब ढाई बजे तीन बाइक सवार बदमाश आए और उनमें से पीछे बैठे एक बदमाश ने कट्टे से हवाई फायर कर दशहत फैलाई। रहवासी राजकुमार तिवारी ने १०० डायल पुलिस को सूचना की। सहायक उप निरीक्षक जे पी शर्मा एक अन्य आरक्षक के साथ मौके पर पहुंचे और घटना की जानकारी ली। तिवारी ने बताया कि इसी बाइक सवार एक महीने पूर्व पथराव कर हमारे मकान के कांच फोड़ गए थे। अभी मैं बाजार से आ रहा था पीछे से तीन बाइक सवार बदमाश मुंह बांधे हुए आए और मैं जैसे ही घर के अंदर घुसा तभी पीछे से एक ने फायर किया और भाग गए। बदमाश सीसीटीवी कैमरे में कैद हो चुके हैं, अगर पुलिस चाहे तो उनकी तश्दीक कर सकती है।
सीएसपी को जानकारी नहीं, टी आई का मोबाइल बंद, शहर किसके भरोसे?
केशव कॉलोनी में हुई फायरिंग के बारे में जब सीएसपी राजेन्द्र रघुुवंशी को फोन किया तो बोले मेरे को जानकारी नहीं हैं, पता करता हूं और शहर कोतवाली आरती चराटे का मोबाइल लगाया तो बंद था। शहर के लिए दोनों ही जिम्मेदार अधिकारी हैं, इनकी ऐसी स्थिति शहर की सुरक्षा पर सवाल खड़े हो रहे हैं।
कथन
- केशव कॉलोनी की फायरिंग की जानकारी नहीं हैं, अभी कोतवाली पहुंचकर पता करवाता हूं। मंडी में हुए झगड़े में पुलिस पहुंच गई थी। लेकिन दोनों गुटों में राजीनामा हो गया इसलिए कोई एफआइआर नहीं की हैं।
राजेन्द्र रघुवंशी, सीएसपी, मुरैना

Ashok Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned