शिक्षकों ने किया गोलमाल, पढक़र चौंक जाएंगे आप

शिक्षकों ने किया गोलमाल, पढक़र चौंक जाएंगे आप
Guest Appointment Case

Rahul Singh | Updated: 14 Sep 2019, 06:00:00 AM (IST) Morena, Morena, Madhya Pradesh, India

दो शिक्षकों ने एक-दूसरे के रिश्तेदारों को बनाया अतिथि शिक्षक, निलंबित

 

मुरैना. दो स्कूल के शिक्षकों ने नियम विरुद्ध तरीके से एक दूसरे के परिजनों को अतिथि शिक्षक के पद पर नियुक्त करने का मामला सामने आया है। विकास खंड अधिकारी मुरैना आरएस तरेटिया ने ६ अगस्त को शासकीय प्राथमिक शाला चक किशनपुर और पीएस भैंसोरा का निरीक्षण किया। जिसमें शिक्षकों द्वारा एक दूसरे के रिश्तेदारों को नियम विरुद्ध रखने की बात सच मिली इस पर बीईओ के प्रस्ताव पर कलेक्टर प्रियंका दास ने ९ सितंबर को नीतू राजपूत, जसवंत सिंह को निलंबित कर दिया है और दोनों अतिथि शिक्षकों को हटाने के निर्देश दिए हैं।


केस-१ चक किशनपुर
चक किशनपुर के सहायक शिक्षक जसवंत सिंह ने शा. प्राथमिक स्कूल भैंसोरा की महिला शिक्षक नीतू राजपूत के पति रामेश्वर राजपूत को नियम विरुद्ध अतिथि शिक्षक के रूप में शाला में रख पदस्थ किया।


केस-२ भैंसोरा
शा. प्राथमिक स्कूल नीतू राजपूत ने चक किशनपुर के प्रभारी व सहायक शिक्षक जसवंत सिंह के लडक़े कुलदीप को अतिथि शिक्षक के रूप में रख लिया जबकि यह नियम विरुद्ध था।


नहीं थे अधिकार फिर भी कर दिया गोलमाल
भैंसोरा हाईस्कूल है और वह एक परिसर एक शाला के तहत आता है। यहां सिर्फ प्राचार्य को अतिथि शिक्षक रखने का अधिकार है। नीतू राजपूत ने एक परिसर एक शाला होने के बाद भी प्रावि के नाम से कुलदीप का ठहराव प्रस्ताव पृथक से डाला गया। यह नीतू राजपूत के अधिकार क्षेत्र से बाहर था, यह अधिकार सिर्फ हाईस्कूल के प्राचार्य को है।
प्राचार्य ने लगाई टीप: कुलदीप की नियुक्ति के लिए स्कूल प्रबंधन समिति को भी अवगत नहीं कराया। प्राचार्य ने टीप लगाई उसके बाद भी कुलदीप जबरन रजिस्टर पर हस्ताक्षर कर रहा था।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned