अभाविप पहुंची ज्ञापन देने, कोई नहीं मिला तो यह कारनामा दिया अंजाम

मुरैना. अनुसूचित जाति एवं जनजाति विद्यार्थियों की समस्याओं को लेकर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता बुधवार को सहायक आयुक्त के नाम जिला संयोजक आदिम जाति कल्याण विभाग के जिला संयोजक को ज्ञापन देने गए। वहां अधिकारी के न होने पर कर्मचारियों ने ज्ञापन लेने के लिए अनुरोध किया तो कर्मचारियों ने ज्ञापन लेने से इंकार कर दिया। इसके बाद परिषद कार्यकर्ताओं ने पहले खाली कुर्सी पर मांग पत्र चस्पा किया और बाद में हाथ जोड़कर मंागों के निराकरण की मांग की गई।
ज्ञापन में मांग की गई है कि अजा अजजा छात्रों की छात्रवृत्ति मूल्य सूचकांक के साथ जोड़ते हुए बढ़ाई जाए, जिले में प्रत्येक छात्रावासों में कम्प्यूटर व नेट व वाई-फाई की व्यवस्था की जाए, सभी छात्रावासों में रोजगार पत्रिकाएं व समाचार पत्रों की व्यवस्था की जाए, खेल सामग्री, पुस्तकालय व विद्यार्थियों के लिए शैक्षणिक भ्रमण की व्यवस्था की जाए, ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले विद्यार्थियों के लिए नि:शुल्क बस की व्यवस्था की जाए, छात्रावासों में अधीक्षकों की नियुक्त किए जाएं सहित 17 मांग शामिल हैं।
Show More
monu sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned