scriptOnly accomplices are caught in the encounter, Gudda is away from the p | मुठभेड़ में पकड़े जाते हैं सिर्फ साथी, गुड्डा इस बार भी पुलिस गिरफ्त से दूर | Patrika News

मुठभेड़ में पकड़े जाते हैं सिर्फ साथी, गुड्डा इस बार भी पुलिस गिरफ्त से दूर

locationमोरेनाPublished: Sep 24, 2022 10:03:00 pm

Submitted by:

Ashok Sharma

- दो साथियों की गिरफ्तारी का पुलिस आज कर सकती है खुलासा

मुठभेड़ में पकड़े जाते हैं सिर्फ साथी, गुड्डा इस बार भी पुलिस गिरफ्त से दूर
मुठभेड़ में पकड़े जाते हैं सिर्फ साथी, गुड्डा इस बार भी पुलिस गिरफ्त से दूर,मुठभेड़ में पकड़े जाते हैं सिर्फ साथी, गुड्डा इस बार भी पुलिस गिरफ्त से दूर,मुठभेड़ में पकड़े जाते हैं सिर्फ साथी, गुड्डा इस बार भी पुलिस गिरफ्त से दूर
मुरैना. कई अपराधों मेें बांछित ६० हजार के इनामी गुड्डा गुर्जर गिरोह से पिछले करीब सात महीने में चार बार पुलिस की भुठभेड़ हो चुकी है, हर बार साथी पकड़ लिए जाते हैं और गुड्डा भागने में सफल हो जाता है। इस बार भी पहाडग़ढ़ थाना प्रभारी द्वारा मुठभेड़ दिखाई गई है, हुई है या नहीं, यह तो पहाडग़ढ़ पुलिस ही जाने लेकिन चर्चा है जो दो साथी पकड़े गए हैं, उनको घर से उठाया गया है। इनमें से एक अपराधी के परिवार को पुलिस पूर्व में मकान तोड़ चुकी है। अब इसके मकान तोडऩे की भी तैयारी की जा रही है।
पहाडग़ढ़ के जंगल में जब से वर्तमान थाना प्रभारी पदस्थ हुए हैं, तब से डकैत गुड्डा गुर्जर की सक्रियता और बढ़ गई है। कभी आदिवासियों से चंदा वसूली तो कभी पशुपालकों की मारपीट आम हो गई है। ग्रामीणों का आरोप है कि डकैत गुड्डा गुर्जर गिरोह को पहाडग़ढ़ पुलिस का संरक्षण प्राप्त है इसलिए मुठभेड़ दिखाकर हर एक दो साथी पकडक़र अधिकारियों के सामने अपने अंक बढ़वा लिए जाते हैं और गुड्डा फिर सुरक्षित निकल जाता है। एक साल पूर्व एक नाबालिग से शादी करने के लिए उसके घर पर फायरिंग की। उसके बाद पुलिस ने उसके दो साथियों को गिरफ्तार किया। उसके संरक्षणदाताओं में से एक मकान तोड़ पाए, दूसरे का मकान तोडऩे गए लेकिन वहां महिलाओं ने विरोध कर दिया जिससे पुलिस वापस हो गई लेकिन आज तक उस अपराधी के मकान को पुलिस तोड़ नहीं सकी। खबर है कि पहाडग़ढ़ में एक दिन पूर्व जो मुठभेड़ दिखाई है, वह भी नाम की है, जो दो साथी पकड़े हैं, उनको तो पुलिस घर से उठाकर लाई है।
फिर बनाया गुड्डा ने गिरोह
पिछली मुठभेड़ में पुलिस ने बताया था कि अब गुड्डा अकेला रह गया है, उसकी गैंग का पूरी तरह सफाया कर दिया है। उसको जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। लेकिन एक दिन पूर्व हुई मुठभेड़ में पुलिस ने गुड्डा के साथ उसके तीन चार साथियों पर मामला दर्ज किया है। इससे स्पष्ट है कि उसने फिर से गिरोह तैयार कर लिया है।
कथन
- डकैत गुड्डा गुर्जर का कब तक भागेगा। उससे हुई मुठभेड़ का रविवार को खुलासा किया जाएगा।
आशुतोष बागरी, पुलिस अधीक्षक, मुरैना
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.