घटिया हो रहे निर्माण कार्य, शिकायतों के अंबार

जिले भर में हो रहे निर्माण कार्योंं की गुणवत्ता पर सवाल खड़े हो रहे हैं। सीएम हेल्पलाइन में इसके विरुद्ध 70 के करीब शिकायतें पहुंची हैं। सर्वाधिक शिकायतें जनपद पंचायत अंबाह और सबलगढ़ क्षेत्र मे हैं। जिले की कुल शिकायतों का यह आंकड़ा 50 प्रतिशत से अधिक इन दो जनपदों का है। पंचायती राज के तहत भी लगभग इतनी ही शिकायतें हैं।

By: Ravindra Kushwah

Updated: 18 Feb 2020, 12:03 PM IST

मुरैना. सोमवार को आयोजित समीक्षा बैठक में जनपद अंबाह से 25, सबलगढ़ में 21, पोरसा में 14, पहाडग़ढ़ में 8, जौर में 5, मुरैना में 2 व कैलारस में 1 शिकायत दर्ज मिली। यह शिकायतें तो केवल निर्माण कार्यों को लेकर हैं। सड़क मरम्मत कार्यों में पंचायती राज के तहत भी इतनी ही शिकायतें हैं। पंचायती राज के तहत पोरसा में 22, सबलगढ़ में 22, अंबाह में 13, कैलारस में 8, पहाडगढ़ में 8, जौरा में 4 और मुरैना में 3 शिकायतें लंबित हैं। नगरीय निकायों के तहत गड्ढे भराव, रोड व डिवायडर की मरम्मत को लेकर भी पोर्टल पर शिकायतें दर्ज हैं। इनमें सबलगढ़ में 7, अंबाह में 6, पोरसा में 6, जौरा में 4, झुण्डपुरा में 2, कैलारस में 2 और बानमोर में 2 शिकायतें हैं। कलेक्टर प्रियंका दास ने इन शिकायतों को प्राथमिकता के आधार पर निपटाने को कहा है। इस दौरान कलेक्टर ने नगर परिषद जौरा के सीएमओ को पीओ डूडा का प्रभार अस्थाई तौर पर देने के भी आदेश दिए थे, लेकिन सीएमओ ने स्टे ले लिया। कलेक्टर ने इस पर नाराजी जाहिर की और विभागीय जांच शुरू करने के निर्देश दिए।
पेयजल परिवहन का तौर-तरीका बदलेगा
कलेक्टर ने ईई पीएचई आरएन करैया से कहा कि पिछले साल की तरह इस बार पेयजल परिवहन नहीं कराया जाएगा। सरकार ने इसके लिए अलग से दिशा-निर्देश जारी किए हैं। अब लोगों को स्थाई तौर पर पेयजल उपलब्ध कराने के लिए प्रस्ताव तैयार किए जाएंगे। यह प्रस्ताव कलेक्टर के हस्ताक्षर से शासन को भेजे जाएंगे।
खाद्यान्न को लेकर भी शिकायतें खूब
पीडीएस के तहत खाद्यान्न को लेकर भी शिकायतें जिले भर से हैं। सर्वाधिक 55 शिकायतें पहाडग़ढ़ से हैं। कैलारस में 26, जौरा में 22, मुरैना की 21, पोरसा की 10, अंबाह 9, सबलगढ़ की 7 और बानमोर की 2 शिकायतें सामने आई हैं।
अवैध कब्जे की शिकायतें सबसे अधिक
जिले में अतिक्रमण, राजस्व प्रकरण और निजी भूमि पर कब्जों की शिकायतें सबसे अधिक हैं। इनमें पोरसा में सर्वाधिक 75, जौरा में 68, अंबाह में 67, कैलारस में 43, बानमोर में 40, मुरैना में 36, सबलगढ़ में 30 और मुरैना शहर में 10 शिकायतें सामने आई हैं। सभी शिकायतों के निकाल के लिए टीम बनाकर काम करने को कहा गया है।

Ravindra Kushwah
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned