आज की शाम देश के नाम में कवियों ने बांधा समां

ऑनलाइन हुआ अखिल भारतीय कवि सम्मेलन

कमल काव्य कुंज एवं अ.भा.साहित्य महीयसी समूह के तत्वावधान में तीन घंटे तक चला काव्य पाठ

By: rishi jaiswal

Published: 28 Jan 2021, 11:37 PM IST

मुरैना. कमल काव्य कुंज एवं अ.भा.साहित्य महीयसी समूह के तत्वावधान में बुधवार शाम ऑनलाइन अखिल भारतीय कवि सम्मेलन ‘आज की शाम देश के नाम’ थीम पर 72वें भारतीय गणतंत्र दिवस पर & घंटे तक कविता पाठ चला। मां शारदे की अध्यक्षता में सम्पन्न इस भव्य कार्यक्रम में सर्वप्रथम दोनों ही समूह की अध्यक्षा मुरैना नगर की वरिष्ठ साहित्यकार भारती जैन दिव्यांशी ने मां बागीश्वरी की वंदना के साथ ही देश के विभिन्न प्रान्तों से प्रतिभागी साहित्यकारों का स्वागत अभिनंदन किया।

तत्पश्चात समूह की सचिव महिमा जैन सुधी के कुशल संचालन में देश के विभिन्न प्रान्तों से जुड़े साहित्य अनुरागियों सलोनी क्षितिज रस्तोगी जयपुर राजस्थान, सीमाहरि शर्मा भोपाल, रामलखन शर्मा ग्वालियर मध्यप्रदेश, बबीता गर्ग सहर फरीदाबाद हरियाणा, राममूर्ति सिंह अधीर लखनऊ उत्तर प्रदेश, रेखा जैन शिकोहाबाद उत्तर प्रदेश, रामप्रकाश अवस्थी जोधपुर, नीरू जैन निरुपमा मेरठ, हरिवल्लभ शर्मा हरि भोपाल, रेखा आगाल चितौडग़ढ़ राजस्थान, डॉ दीप्ति गौड़ दीप ग्वालियर, डॉ. रघुनाथ मिश्र सहज कोटा, राजस्थान रत्ना वर्मा धनबाद झारखंड, निर्मला शर्मा फरीदाबाद हरियाणा, सूरजमल मंगल शिवपुरी, सुषमा वीरेंद्र खरे सिहोरा जबलपुर, डॉ. रेखा कक्कड़ आगरा उत्तर प्रदेश, नमोकार जैन करोली राजस्थान, निर्मला डोंगरे जबलपुर, चंदादेवी जबलपुर, महिमा जैन सुधी एवं भारती जैन दिव्यांशी मुरैना ने देशभक्ति की रचनाओं की प्रस्तुति देकर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम के अंत में निर्मला शर्मा फरीदाबाद ने सभी का आभार प्रदर्शन किया।

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned