कैचमेंट जोन में बारिश से क्वारी नदी उफनी, डैम ओवरफ्लो, संपर्क बाधित रहा

5.94 करोड़ की लागत से इसी साल बना है क्वारी नदी पर 16.26 फीट ऊंचा डैम, पहली बार रुका पानी

रामपुरकलां. तीन दिन से बारिश न होने के बावजूद क्वारी नदी उफान पर है। इससे जारौली-गोबरा घाट पर बने स्टॉप डैम से पानी ओवरफ्लो होकर आवागमन के लिए उपयोग किए जाने वाले रपटे पर आ गया है। इससे आधा दर्जन से अधिक गांवों का संपर्क टूट गया है। हालांकि रात को पानी ज्यादा और सुबह कम होने से वाहन और रिस्क लेकर लोग निकलने लगे हैं, लेकिन आने वाले दिनों में बारिश तेज होने पर यह संकट और गहराने वाला है। जारौली घाट पर 5.94 करोड़ रुपए की लागत से स्टॉप डैम इसी साल अप्रैल में बनकर तैयार हुआ है। पहली बार इसमें पानी भरा है। 16.25 फीट ऊंचा होने के बावजूद लोगों को अब लग रहा है कि इसकी ऊंचाई और होनी चाहिए थी। इसके ऊपर करीब सात किमी दूर क्वारी नदी के ही बामसौली घाट पर भी पहले डैम बना है, वह भी ओवरफ्लो हो रहा है।

आधा दर्जन गांवों का रास्ता बंद

डैम ओवरफ्लो होने से रामपुरकलां के आसपास के श्योपुर जिले तक के आधा दर्जन गांवों का सबलगढ़ से सीधा संपर्क कट गया है। इनमें सबलगढ़ के बातेड़ के अलावा विजयपुर के काठौन, बंगा, भूरापुरा, पचनय आदि गांव शामिल हैं। इन गांवों की पांच हजार से अधिक आबादी इससे प्रभावित है।

गेट लगने के बाद और बढ़ जाएगी समस्या

डैम नया बना है, इसलिए अभी गेट नहीं लग पाए हैं, लेकिन फिर भी क्षेत्र में बरसात न होने के बावजूद श्योपुर जिले की बारिश की वजह से क्वारी नदी में उफान और रपटे पर पानी आ गया। जारौली घाट डैम के गेट लग जाने के बाद यह समस्या और गहरा सकती है।

डैम का नंबर गणित

5.94 करोड़ रुपए की लागत से निर्माण हुआ है क्वारी नदी के डैम का
75 मीटर के करीब लंबाई है स्टॉप डैम की पाल की
16.25 फीट तक ऊंचाई रखी गई है निर्मित स्टॉप डैम की
7 किमी तक पानी को रोकने की क्षमता का बनाया गया है डैम
3 फीट से भी ज्यादा पानी आ गया था रपटे पर डैम के ओवरफ्लो से

महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned