बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, अभियान को आगे बढ़ाया जाएगा

अखिल भारतीय माहौर ग्वार्रे वैश्य महासभा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाई, अभियान पूरी सिद्धत के साथ जारी रखने का निर्णय लिया गया। इसके लिए समाज के लोगों ने दान भी दिया। बैठक में समाज के लिए तन, मन और धन से सहयोग करने और समाजसेवा के क्षेत्र में सक्रिय रामकिशोर गांगिल सहित करीब आधा सैकड़ा लोगों को सम्मानित भी किया गया। आठ प्रतिभावान बच्चों को भी डॉ. भगवानदास अलंकरण से नवाजा गया।

By: Ravindra Kushwah

Published: 01 Mar 2021, 12:36 PM IST

मुरैना. अखिल भारतीय माहोर ग्वार्रे वैश्य महासभा की बैठक होटल धर्म इन में आयोजित की गई। इस दौरान अनेक प्रस्ताव पारित किए गए। पिछली बैठक की कार्यवाही की पुष्टि के साथ चुनाव अधिकारियों का सम्मान, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तहत चर्चा एवं बच्चों को सम्मानित करने के लिए धन संग्रह किया गया। बैठक में मुख्य अतिथि समाजसेवी दीनदयाल बंसल भोपाल रहे। अध्यक्षता राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रकाश चंद मांडिल ने की। भोपाल से सुभाष गुप्ता विशेष अतिथि रहे। राष्ट्रीय महामंत्री मीना गुप्ता ने बैठक का संचालन किया। बैठक में शिव नारायण गुप्ता, विजय गुप्ता, अशोक कुमार गुप्ता, मदन मोहन गोयल, आनंद गुप्ता, राधाकृष्ण गुप्ता, आकाश चांदिल, संजय गोयल , रवी गुप्ता , सुरेश गुप्ता, बृजेंद्र गुप्ता, पंकज गुप्ता, नारायण हरी गुप्ता एवं सभी नगर अध्यक्ष सहित लगभग दो सैकड़ा समाज बंधु उपस्थित रहे। कोरोना काल के बाद महासभा की यह पहली बैठक थी।
2.89 लाख रुपए से ज्यादा का धन संग्रह
बैठक के दौरान बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के तहत चयनित 106 बच्चों को पुरस्कृत करने के लिए दो लाख, 89 हजार 600 रुपए का धन संग्रह किया गया। डॉ. भगवान दास अलंकरण के तहत मोनिका गुप्ता ,हिमांशु गुप्ता, डॉ राधिका गांगिल,विकास मांडिल, डॉ मनीष गुप्ता , कुमारी स्मृति गोयल, अनुभव चांदिल,कुमारी साक्षी गुप्ता ,आदि को मंच से सम्मानित किया गया एवं गत चुनाव कराने वाले कार्यकर्ताओं को रामकिशोर गांगिल सहित 45 लोगों को सम्मानित किया गया।
बैठक में समाज सुधार के यह प्रस्ताव हुए पारित
-समाज में दहेज प्रथा को हतोत्साहित करने के लिए सभी लोग दहेज का लेन-देन बंद करेंगे।
-देव उठनी एकादशी पर समाज का सामूहिक विवाह सम्मेलन आयोजित किया जाएगा।
-सामूहिक विवाह सम्मेलन के पूर्व युवक-युवती परिचय सम्मेलन का भी आयोजन किया जाएगा।
-परिचय सम्मेलन रक्षाबंधन के दूसरे दिन मुरैना शहर में किया जाएगा। महासभा की ११ अप्रैल को डबरा में होने वाली बैठक में औपचारिक निर्णय लिया जाएगा।

Ravindra Kushwah
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned