scriptStaff filling the buses by parking them on the middle road | बसों को बीच सडक़ पर खड़ी करके सवारी भर रहा स्टाफ | Patrika News

बसों को बीच सडक़ पर खड़ी करके सवारी भर रहा स्टाफ

locationमोरेनाPublished: Aug 27, 2022 02:28:52 pm

Submitted by:

Ashok Sharma

- यातायात पुलिस ने बैठक में ऑपरेटर्स को बैरियर पर बस खड़ी न करने की दी थी समझाइश

बसों को बीच सडक़ पर खड़ी करके सवारी भर रहा स्टाफ
बसों को बीच सडक़ पर खड़ी करके सवारी भर रहा स्टाफ

मुरैना. यातायात पुलिस के निर्देश के बाद भी बस स्टाफ बीच सडक़ पर बस खड़ी करके सवारियां भरते हंै जिससे रास्ता अवरुद्ध होता है। खासकर जौरा व ग्वालियर की तरफ जाने वाली बसों में यह अव्यवस्था देखने को मिलती है। इस रूट पर जाने वाली बसों के गेट बस स्टैंड से बंद नहीं होते हैं और रास्ते में सवारियां मिलती हैं तो बीच सडक़ पर भी बस रोक ली जाती है।
यहां बता दें कि यातायात पुलिस के अधिकारियों ने १३ अगस्त को बस ऑपरेटर्स की बैठक बुलाई थी। उसमें सबको स्पष्ट निर्देश दिए थे कि बस स्टैंड से निकलते ही बस के गेट बंद हो जाना चाहिए अर्थात रास्ते में बस रोककर सवारी न बैठाएं। जौरा रोड पर मां बेटी चौराहे के निकलने पर गेट खोला जाए लेकिन यातायात पुलिस द्वारा बुलाई गई बैठक में दी समझाइश का बस स्टाफ पर कोई असर नहीं हुआ और वह बस स्टैंड से निकलते ही सवारियां भरना शुरू कर देते हैं।
बस स्टैंड बन जाता है जौरा रोड
अल सुबह से ही जौरा रोड अघोषित बस स्टैंड बन जाता है। स्टैंड से ज्यादा समय तक जौरा रोड पर खड़ी होकर बस सवारियां भरती हैं जिससे यहां रास्ता अवरुद्ध हो जाता है। कई बार तो जाम के हालात निर्मित हो जाते हैं। यहां से जौरा, कैलारस, सबलगढ़, रामपुर, पहाडग़ढ़, सबलगढ़ व श्योपुर तक बस निकलती हैं।
यातायात थाने के सामने भी खड़ी होती हैं बस
ग्वालियर की तरफ जाने वाली बसें पहले हनुमान मंदिर के पास खड़ी रहती हैं, उसके बाद यातायात थाने के सामने भी रुक जाती हैं। अगर वहां कोई स्टाफ का कर्मचारी खड़ा होता है तो धीमी गति करके आगे बढ़ा दी जाती हैं। यह स्थिति सुबह के समय ज्यादा बनती हैं, जब यहां स्टाफ नहीं रहता।
कथन
- यह बात सही है कि बैठक में बस ऑपरेटर्स को समझाइश दी थी कि सडक़ पर सवारियां बैठाई तो चालान किया जाएगा लेकिन अगर वह ऐसा कर रहे हैं तो कार्रवाई की जाएगी फिलहाल हम शनिचरा मेला में व्यस्त हैं।
अखिल सिंह, प्रभारी, यातायात थाना
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.