अचानक लगी आग और जल गया 40 लाख का सामान

अफसरों ने रात में नही उठाए फोन सुबह 7 बजे पहुंचे अधिकारी, लॉकडाउन में सब्जी बेचकर कर रहे थे गुजारा

By: rishi jaiswal

Published: 27 Jul 2020, 11:32 PM IST

कैलारस. ग्राम हटीपुरा में श्रीनिवास धाकड़ व रामावतार धाकड़ दोनों भाई लगभग 20 वर्षो से आरती टेंट हाउस के नाम से अपना व्यवसाय कर अपने परिवारों का भरण पोषण कर रहे थे।

रविवार-सोमवार की दरम्यानी रात्रि को अचानक लगी आग से उनका सब कुछ जलकर राख हो गया। इसमें रजाई गद्दा, साउंड केबिनेट, लाइट का सामान, पंखा, कूलर, पर्दा, कुर्सी, मेटी व नकदी 25 हजार व उसमें भरे गेहूं एवं बाइक भी जलकर नष्ट हो गई।

इसके साथ साथ लॉक डाउन के चलते टेंट का काम नही चल पा रहा था तो उन्होंने एक सब्जी व किराने की दुकान भी डाल ली थी उसका सारा सामान जलकर नष्ट हो गया। उक्त समान की कीमत लगभग 40 लाख बताई गई है।

पीडि़त श्रीनिवास धाकड़ ने बताया कि हम रात्रि में सो रहे थे कि 2.&0 बजे अचानक आग लग गयी आग इतनी तेज थी कि हम बड़ी मुश्किल से उसमें से निकल पाए ग्रामीणों ने हमारी मदद की एवं रात्रि गस्त कर रही चिंनोनी के थाना प्रभारी जयदीप भदोरिया व उनकी टीम ने भी ग्रामीणों के साथ हमारी मदद की। हमने रात में कैलारस के प्रशासनिक अधिकारियों को फोन लगाए लेकिन किसी ने फोन नही उठाये। थाना प्रभारी चिंनोनी ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी तब फायर बिग्रेड आयी।

प्रशासन कैलारस के अधिकारी सुबह ग्राम में आए। सुबह ग्राम हटीपुरा में नायब तहसीलदार राहुल गौड़, हल्का पटवारी संजय धाकड़ के साथ मौके पर पहुंचे और आग से हुई क्षति का आंकलन किया।

मौके पर पंचनामा तैयार किया जिसमें श्रीनिवास धाकड़ व रामावतार धाकड़ दोनों का 20--20 लाख कुल 40 लाख का नुकसान का आंकलन किया गया है। पीडि़त व ग्रामीणों ने शासन प्रशासन से शीघ्र अतिशीघ्र मुआवजा दिलाने एवं तत्काल परिवार के भरण पोषण की व्यवस्था करने की मांग की है।

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned