शव रखकर तीन घंटे तक किया थाने का घेराव

- दुर्घटनाकारित वाहन चालक के खिलाफ अपराध दर्ज करने की मांग कर रहे थे पीडि़त पक्ष के लोग

By: Ashok Sharma

Published: 26 Feb 2021, 08:12 PM IST


मुरैना. ट्रैक्टर और बाइक की भिडंंत में 25 जनवरी को जलालगढ़ निवासी रामनिवास जाटव उर्फ भूरा जाटव 40 वर्ष की मौत हो गयी थी। यह दुर्घटना रामपुर कैलारस मुख्य मार्ग पर घटित हुई। परिजन की मौत से गुस्साए परिजन ने मृतक रामनिवास जाटव के शव को शुक्रवार की सुबह थाना प्रांगण में रख दिया और 10 बजे से लगभग 1 बजे तक तीन घंटे थाने का घेराव किया। पीडि़त पक्ष की मांग थी कि वाहन चालक के खिलाफ मामला दर्ज किया जाए। जबकि पुलिस का कहना था कि मुरैना से केस डायरी आने पर अपराध दर्ज किया जाएगा। थाने का घेराव करते समय लगभग 100 से 200 लोग उपस्थित रहे।
थाना प्रभारी के समझाने पर किया घेराव समाप्त
थाना प्रभारी चेतन सिंह करोरिया के द्वारा पीडि़त पक्ष के लोगों को समझाया कि डायरी आने के तुरंत बाद एफआईआर दर्ज कर दी जाएगी। उसके बाद आंदोलन समाप्त हो गया और मृतक के शव को अंतिम संस्कार के लिए गांव ले जाया गया। जहां उसकी अंत्येष्टि की गई।
टै्रक्टर की टक्कर से हुई थी मौत
जानकारी के अनुसार 25 फरवरी की शाम को लगभग साढ़े छ: बजे के आसपास एक स्वराज ट्रैक्टर और बाइक में रामपुर कैलारस मार्ग पर एचबाड़ा गांव के पास भिडंत हो गयी थी। इस भिडंंत में बाइक सवार रामनिवास उर्फ भूरा जाटव गंभीर रूप से घायल हो गया था। उसको इलाज के लिए एम्बुलेंस से कैलारस ले जाया गया। वहां से मुरैना रैफर कर दिया। वहां पहुंचते ही चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया।

Ashok Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned