लॉक डाउन को बनाया मजाक, बाजार में उमड़ रही भीड़

प्रशासन सख्ती बरत रहा है वह हम और सभी के लिए है। प्रशासन के साथ-साथ आम जनता को भी जागरुक होना पड़ेगा और इस समय जो नियम बनाए जा रहे हैं, उनका पालन भी करना होगा अन्यथा परेशानी सभी के लिए हो सकती है।

मुरैना. कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने हेतु प्रशासन ने सख्ती बरतते हुए जिले को लॉक डाउन किया है। किराना दुकानों के आगे भीड़ न लगे और ग्राहक दूरी बनाकर खड़े हों, इसके लिए नगर निगम ने दुकानों के आगे गोल घेरे भी बना दिए थे, लेकिन यहां नियमों की अनदेखी हो रही है।

गुरुवार की सुबह सदर बाजार, पसारी बाजार में दुकानों के आगे बने गोल घेरे को छोड़कर लोग भीड़ के रूप में दुकानों पर खड़े होकर खरीदारी कर रहे थे।

प्रशासन सख्ती बरत रहा है वह हम और सभी के लिए है। प्रशासन के साथ-साथ आम जनता को भी जागरुक होना पड़ेगा और इस समय जो नियम बनाए जा रहे हैं, उनका पालन भी करना होगा अन्यथा परेशानी सभी के लिए हो सकती है।

बाजार में ढील के पीछे पुलिस को सख्त न होना भी बताया जा रहा है। लॉक डाउन के चलते पुलिस ने सोमवार व मंगलवार को शहर में सख्ती बरती और जो नियम तोड़ते नजर आए उन पर सख्ती से पेश आए।

उसका परिणाम यह निकला कि बाजार में सन्नाटा पसरा रहा, परंतु मंगलवार को एक जनप्रतिनिधि के परिजन पर पुलिस ने सख्ती बरती, जिसको लेकर पुलिस अधीक्षक ने एक उप निरीक्षक व आरक्षक को लाइन अटैच कर दिया।

उसके बाद से पुलिस जवानों का मनोवल गिर गया और पॉइंट पर खड़े होकर ड्यूटी तो कर रहे हैं, परंतु सख्ती नहीं बरत रहे। इसी का परिणाम हैं कि शहर में कोई कहीं भी जा रहा है और बाजार में सुबह 9 बजे तक खासी भीड़ उमड़ रही है। फाटक बाहर भी हालात चिंताजनक हैं।

यहां ओवरब्रिज से लेकर रामनगर तिराहे तक रोजाना सुबह नौ बजे तक मेले जैसी भीड़ उमड़ रही है। यहां बीच सड़क पर सब्जी मंडी और इधर-उधर सड़क के दोनों तरफ किराने की दुकान हैं इसलिए लोगों की एक साथ भीड़ उमड़ रही है।

rishi jaiswal
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned