scriptThe police were kind to the dacoits, attempted murder and did not impo | डकैतों पर पुलिस मेहरबान, हत्या का प्रयास और न लगाईं डकैती धाराएं | Patrika News

डकैतों पर पुलिस मेहरबान, हत्या का प्रयास और न लगाईं डकैती धाराएं

- इनामी डकैत ने शादी के लिए बनाया दबाव, की ताबड़तोड़ फायरिंग
- मारपीट में लडक़ी का दादा व मां घायल

मोरेना

Published: April 27, 2022 10:01:06 pm

मुरैना. पहाडग़ढ़ थाना क्षेत्र में इनामी डकैत कल्ली गुर्जर ने शादी के लिए दबाव बनाते हुए लडक़ी के दादा गोपाल गुर्जर व मां रामबाई की मारपीट की और ताबड़तोड़ फायरिंग की। परिजन के अनुसार करीब आधा सैकड़ा राउंड फायर किए। मौके से ३०-३५ कारतूस चले हुए मौके से मिले हुए हैं। इसके बाद भी पुलिस डकैतों पर पूरी तरह मेहरबान हैं। डकैती व हत्या के प्रयास की धाराएं न लगाकर सामान्य मारपीट की धाराओं के तहत अपराध दर्ज करना पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान खड़े कर रहा है।
स्याहीटेक गांव के निवासी गोपाल सिंह गुर्जर ने पुलिस को रिपोर्ट की है कि २६- २७ अप्रेल की दरम्यानी रात करीब एक बजे की बात है। मैं बाउंड्री के अंदर व बहू रामबाई व बच्चे टीनशैड में सो रहे थे। तभी दस हजार का इनामी डकैत कल्ली उर्फ कल्लू उर्फ शिवचरण गुर्जर, बंटी गुर्जर, जितेन्द्र गुर्जर निवासी चांचुल थाना पहाडग़ढ़ व अन्य पांच लोगों के साथ बाउंडी में घुस आए और रामबाई की लाठियों से मारपीट की। उसके पैर, हाथ व शरीर के अन्य हिस्सों में चोट आई है। रामबाई चिल्लाई तो उसको बचाने ससुर गोपाल सिंह गुर्जर पहुंचे, उसको भी लाठी मारी जो बोई तरफ पसलियों में चोट आई है। गालियां देकर बोले कि तू अपनी नातिन की शादी कल्ली के लिए क्यों नहीं कर रहा है एक वर्ष से घुमा रहा है। गोपाल सिंह ने लडक़ी छोटी होने का हवाला देकर शादी से इंकार कर दिया, इसी बात पर बंदूकों से ताबड़तोड़ फायर किये। परिवार के लोगों ने अपने आपकों भागकर मकान के अंदर बंद कर लिया। बदमाश फायरिंग करके मौके से धमकी देकर चले गए कि तूने अपनी नातिन की सगाई कल्ली के लिए नहीं की तो तुझे जान से खत्म कर देंगे। पहाडग़ढ़ पुलिस ने गोपाल सिंह गुर्जर की रिपोर्ट पर आरोपी डकैत कल्ली गुर्जर, बंटी गुर्जर, जितेन्द्र गुर्जर तीनों भाइयों के खिलाफ सामान्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।
चार घंटे देर से पहुंची पुलिस और कहा रिपोर्ट लिखाने थाने आ जाना
पीडि़त गोपाल सिंह गुर्जर के रिश्तेदार अमर सिंह गुर्जर का आरोप है कि स्याहीटेक में रात को एक बजे बदमाशों ने फायरिंग की, उसी समय पुलिस को फोन किया लेकिन पुलिस चार घंटे बाद सुबह पांच बजे मौके पर पहुंची और यह कहकर कि रिपोर्ट लिखाने थाने आ जाना, वापस हो गई। पुलिस का डकैत बदमाशों के प्रति इस तरह का व्यवहार लोगों के मन में भय पैदा कर रहा है। लोगों का कहना हैं कि पुलिस का डकैतों के प्रति यही रवैया रहा तो किसी दिन गंभीर वारदात घटित हो सकती है।
डकैतों पर पुलिस मेहरबान, हत्या का प्रयास और न लगाईं डकैती धाराएं
पहाडग़ढ़ थाना पुलिस डकैतों पर पूरी तरह मेहरबान हैं। पीडि़त पक्ष के दो लोगों की जबरदस्त लाठियों से पिटाई लगाई और आधा सैकड़ा ताबड़तोड़ फायरिंग की। मौके से ३०-३५ राउंड जब्त किए गए, उसके बाद भी पहाडग़ढ़ पुलिस ने सिर्फ सामान्य मारपीट, जान से मारने की धमकी देने की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। ऐसे अपराधी जिस पर पहले से अपहरण का मामला दर्ज हो और दस हजार का इनाम उसके बाद जबरदस्त फायरिंग लडक़ी से जबरन शादी करने का दबाव बना रहा है, उसके बाद भी उसके प्रति पुलिस का शॉफ्ट कॉर्नर जांच का विषय है।
एक साल पूर्व भी कर चुका है फायरिंग
इनामी डकैत कल्ली गुर्जर पिछले एक साल से गोपाल सिंह गुर्जर की नातिन से शादी के लिए दबाव बना रहा है। एक साल पूर्व भी इनके घर पर फायरिंग कर धमकी दे चुका है। उसी शादी को लेकर फिर से फायरिंग व मारपीट की गई है।
कथन
- डकैत कल्ली गुर्जर ने पहाडग़ढ़ के जंगल में फायरिंग की है। उसकी एफआइआर की जा चुकी है। इस डकैत पर शिवपुरी से दस हजार का इनाम हैं। इस पूर्व से दो अपराध हैं। उसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस पार्टी लगा दी हैं।
आशुतोष बागरी, पुलिस अधीक्षक, मुरैना
डकैतों पर पुलिस मेहरबान, हत्या का प्रयास और न लगाईं डकैती धाराएं
डकैतों पर पुलिस मेहरबान, हत्या का प्रयास और न लगाईं डकैती धाराएं

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल'इज ऑफ डूइंग बिजनेस' के मामले में 7 राज्यों ने किया बढ़िया प्रदर्शन, जानें किस राज्य ने हासिल किया पहला रैंक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.