धर्मगुरुओं से कहा, बंद ही रखें मंदिर-मस्जिद

बैठकों में प्रशासन ने दी सख्ती से हिदायत

सबलगढ़/पोरसा. धर्मस्थलों में लोगों की भीड़ इक_ी न हो, इसके लिए सबलगढ़ व पोरसा में शुक्रवार को धर्मगुरुओं की बैठकों का आयोजन किया गया। इस दौरान उनसे साफ शब्दों में कहा गया कि जब तक कोरोना संक्रमण की आशंका है, तब तक हर हाल में मंदिरों व मस्जिदों को बंद ही रखा जाए।

सबलगढ़ में पुलिस थाना परिसर में बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान थाना प्रभारी शैलेन्द्र गोविल ने हिदायत दी कि लॉकडाउन के दौरान कोई भी मन्दिर-मस्जिद दर्शनार्थियों व नमाज के लिए नहीं खोला जाए। धार्मिक स्थल पर सोशल डिस्टेन्स का पालन नहीं हो सकता, इसलिए शासन के सख्त आदेश हैं कि सभी पूजाघर बन्द रहेंगे चाहे वो किसी भी समाज के हों। खास बात यह रही कि सबलगढ़ में आयोजित बैठक में राजस्व विभाग का कोई नुमाइंदा शामिल नहीं हुआ। इधर पोरसा में एसडीएम अंबाह विनोद सिंह ने धर्मगुरुओं से धार्मिक स्थल बंद रखने को कहा। उन्होंने कहा कि मंदिर, मस्जिदों में कोई भी ध्वनि नहीं होनी हो एवं पट बंद रहना चाहिए। मंदिरों व मस्जिदों में रुटीन पूजा, नमाज का काम अकेले पुजारी व मौलवी ही करें। बैठक में एसडीओपी अवनीश बंसल, तहसीलदार राजकुमार नागोरिया, नायब तहसीलदार ओपी श्रीवास्तव, टीआई अतुल भी मौजूद रहे।

महेंद्र राजोरे Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned