चंबल नदी में अचानक बढ़ा पानी, माफिया का टै्रक्टर डूबा, जेसीबी से निकाला

- चंबल नदी के राजघाट, जैतपुर और कैंथरी घाट पर रात दिन हो रहा रेत का अवैध उत्खनन
- टास्क फोर्स की कार्रवाई सिर्फ कमरे तक ही सीमित

By: Ashok Sharma

Published: 22 Jul 2021, 10:14 PM IST


मुरैना. चंबल नदी के राजघाट से बुधवार को माफिया अवैध उत्खनन कर ट्रॉली में रेत भरकर टै्रक्टर वहां से निकलता उससे पहले अचानक नदी का जल स्तर बढ़ गया और जैसे ही टै्रक्टर ट्रॉली को निकालने का प्रयास किया तभी टै्रक्टर गहरे पानी के गड्ढे में फंस कर पलट गया, चालक छिन्नू बाल बाल बचा। जेसीबी और डोजर से बड़ी मशक्कत के बाद टै्रक्टर ट्रॉली को चंबल नदी से बाहर निकाला जा सका। इसके अलावा जैतपुर व कैंथरी घाट से भी रात दिन अवैध उत्खनन हो रहा है।
यहां बता दें कि अभी हाल ही में संपन्न हुई टास्क फोर्स की बैठक में कमरे के अंदर अधिकारियों ने रेत पर कार्रवाई की बड़ी बड़ी डींगे मारी गई लेकिन बैठक के माफिया के खिलाफ कार्रवाई के नाम पर हवा निकल गई। डंप रेत को नष्ट करने में प्रशासन जुटा हुआ है लेकिन चंबल नदी के जिन घाटों से अवैध उत्खनन कर रेत निकाला जा रहा है, उन ठिकानों पर कार्रवाई का साहस प्रशासन नहीं जुटा पा रहा है। बैठक में कार्रवाई का बड़ा खाका खींचकर शासन को भेज दिया जाता है लेकिन धरातल पर देखा जाए तो कार्रवाई के नाम पर सिर्फ औपचारिकताएं पूरी की जा रही हैं।
कैंथरी घाट पर अवैध उत्खनन करवा रहा है इनामी बदमाश .............
चंबल नदी के कैंथरी घाट पर बरवासिन का पप्पू गुर्जर जिस पर पांच हजार का इनाम हैं, वह अवैध उत्खनन करवा रहा है। यहां पप्पू गुर्जर अपने लोगों के साथ हथियारों से लैस होकर मौजूद रहता है और हर टै्रक्टर ट्रॉली से २०० रुपए प्रति चक्कर वसूलता है। इस घाट पर लाइन से लगकर दर्जनों टै्रक्टर ट्रॉली एक साथ निकलते हैं। यहां दो दिन पूर्व बूंदाबांदी के दौरान एक ट्रॉली पलट गई तो उसको सीधा करने के लिए तीन चार डोजर तुरंत मौके पर पहुंचे और रास्ता बनाया।
जैतपुर घाट पर नदी की बीच धार में अवैध उत्खनन ...........
्रचंबल नदी के जैतपुर घाट पर पिपरई व जैतपुर के लोग नदी की बीच धार से अवैध उत्खनन कर रहे हैं। यहां डोजर से पानी से रेत खींचकर ट्रॉलियों में भरा जाता है। एक ट्रॉली भर जाती है तब दूसरी लगा दी जाती है। यहां तीन चार डोजर रात दिन रेत का उत्खनन कर ट्रॉलियों भर रहे हैं।
एसपी के निर्देश के बाद भी लग रही रेत मंडी ............
पुलिस अधीक्षक ने अधीनस्थों को निर्देशित किया था कि शहर में रेत की मंडी नहीं लगना चाहिए, रेत माफिया के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। लेकिन उसके बाद भी बड़ोखर, हाइवे के नजदीक बाइपास और बानमोर में नगर परिषद तिराहे पर रेत मंडियां खुलेआम लग रही हैं। एसपी के निर्देश के बाद सिविल लाइन थाना पुलिस ने कार्रवाई करने का प्रयास किया, वह माफिया के टै्रक्टर ट्रॉली तो नहीं पकड़ सके पंरतु सीवर लाइन कंपनी में लगे टै्रक्टर ट्रॉली पकडक़र बाहबाही लूटने का प्रयास किया लेकिन एक दिन के बाद फिर कोई कार्रवाई नहीं की गई जबकि माफिया के कारोबार में कोई कमी नहीं आई और धडल्ले से दर्जनों टै्रक्टर ट्रॉली थानों के सामने से गुजर रहे हैं।
कथन
- मैं एक दो टै्रक्टर ट्रॉली पकडऩे में विश्वास नहीं करता, ढंग से होगी और बड़ी कार्रवाई की जाएगी।
ललित शाक्यवार, पुलिस अधीक्षक, मुरैना

Ashok Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned