अस्पताल में चिकित्सक फिर भी क्यों परेशान हैं मरीज

एसडीएम ने किया निरीक्षण तो खुली पोल

By: rishi jaiswal

Updated: 11 Jan 2021, 12:00 AM IST

सुमावली. जौरा एसडीएम नीरज शर्मा शनिवार सुबह 11 बजे सुमावली अस्पताल पहुंचे, जहां तीनों डाक्टरों सहित पूरा स्टाफ अनुपस्थित मिला।

प्रसूति वार्ड में एक एएनएम मिली। सर्दी, खांसी, बुखार, खुजली आदि के मरीज डाक्टरों का घंटों से इंतजार कर लौट गए। यहां बता दें कि सुमावली अस्पताल में तीन डॉक्टरों की पदस्थापना है जिनमें एक डॉक्टर ओपीडी में अपनी सुविधा से यदा कदा आते हैं एक दिन जौरा हास्पिटल डॉक्टर की इमर्जेंसी ड्यूटी लगाई जाती है। दूसरे ऑफ पर रहता है। इस समय डॉ अभिमन्यु अग्रवाल जो डिग्री प्राप्त कर एक वर्ष के लिए ग्रामीण क्षेत्र सुमावली अस्पताल में बॉन्ड पर पदस्थ है। दूसरे डॉ राज कुमार शाक्य लहार भिंड से सविंदा पर सुमावली पदस्थ हैं। तीसरे डॉ सोनू शर्मा जो पोरसा में पदस्थ है सुमावली में अटैच किया है। जब इनसे शनिवार को अनुपस्थिति के बारे में पूछा तो डॉ. अग्रवाल ने कहा कि पिताजी की तबीयत खराब होने से छुट्टी पर हूं, डॉ. शाक्य ने बताया कि जौरा ड्यूटी पर था। डॉ. शर्मा ने कहा कि वह शुक्रवार को जौरा में 24 घंटे इमर्जेंसी ड्यूटी की। शनिवार को ऑफ रहता है जिससे नहीं आया। अस्पताल पर डाक्टर सहित अन्य स्टाफ अनुपस्थित मिलने पर एसडीएम नीरज शर्मा ने सीएमओ मुरैना को जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिए तथा कलेक्टर को भी प्रतिवेदन कार्रवाई के लिए भेजा गया।

rishi jaiswal
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned