मूवी रिव्यू : फिर रिवेंज के इर्द-गिर्द घूमती 'हेट स्टोरी'

By: भूप सिंह
| Published: 13 Mar 2018, 02:32 PM IST
मूवी रिव्यू : फिर रिवेंज के इर्द-गिर्द घूमती 'हेट स्टोरी'
Hate Story 4

निर्देशक विशाल पांड्या की इरोटिक थ्रिलर जोनर पर अच्छी पकड़ है। 'हेट स्टोरी 4' की कहानी भी रिवेंज पर आधारित है...

स्टार कास्ट : उर्वशी रौतेला, करण वाही, विवान भटेना, इहाना ढिल्लों, गुलशन ग्रोवर
डायरेक्शन : विशाल पांड्या
स्टोरी : समीर अरोड़ा
स्क्रीनप्ले : समीर, विशाल
डायलॉग्स : मिलाप झावेरी
जोनर : इरोटिक थ्रिलर
म्यूजिक : मिथुन, आर्को प्रवो मुखर्जी, तनिष्क बागची, टोनी कक्कड़, बमन
एडिटिंग : मनीष मोरे
रेटिंग : 2 स्टार

आर्यन शर्मा जयपुर।
हिट इरोटिक थ्रिलर सीरीज 'हेट स्टोरीà की चौथी फिल्म भी रिवेंज ड्रामा है। इस सीरीज के सेकंड और थर्ड पार्ट को डायरेक्ट कर चुके विशाल पांड्या ने ही 'हेट स्टोरी 4' का निर्देशन किया है। इसमें उन्होंने रिवेंज ड्रामा को रोमांस और थ्रिलर के साथ स्टाइलिश अंदाज में प्रजेंट करने का प्रयास किया है। हालांकि फिल्म में काफी ट्विस्ट्स और टन्र्स है, लेकिन इसके बावजूद फिल्म में मेलोड्रामा ज्यादा है, जो इसके चार्म पर असर डालता है। यह रिवेंज के इर्द-गिर्द घूमती हेट स्टोरी है।

स्क्रिप्ट
फिल्म की कहानी में फैशन फोटोग्राफर राजवीर खुराना (करण वाही) की मुलाकात ताशा (उर्वशी रौतेला) से होती है, जो टॉप की हीरोइन बनना चाहती है। राजवीर को ताशा से इश्क हो जाता है। वहीं, राजवीर के बिजनेसमैन भाई आर्यन खुराना (विवान भटेना) के पास पैसे की कमी नहीं है। उसका दिल भी ताशा पर आ जाता है और एक दिन ऐसा कुछ होता है, जो तीनों किरदारों की लाइफ को एक नए मोड़ पर ले आता है। कहानी में लव ट्रायएंगल है। आर्यन और राजवीर के पिता विक्रम खुराना (गुलशन ग्रोवर) भी इस लव ट्रायएंगल में अहम कड़ी हैं। इसके बाद कहानी में ट्विस्ट्स और टन्र्स आने लगते हैं। प्यार से ज्यादा नफरत को दर्शाती यह कहानी कई उतार-चढ़ाव के साथ अंजाम तक पहुंचती है, जिसमें खूबसूरत बला के रूप में उर्वशी की मादक अदाएं एक अलग तड़का लगाती हैं। कहानी में लव, लस्ट, फरेब, नफरत और बदला जैसे तमाम मसालों को पिरोया गया है।
एक्टिंग
उर्वशी रौतेला ताशा के रोल में जबरदस्त हॉट लगी हैं, लेकिन उनका चार्म ज्यादा देर नहीं टिकता, क्योंकि फिल्म मेलोड्रामेटिक जोन में चली जाती है। कुछ सीन में उनके एक्सप्रेशन कमाल के हैं, बाकी में वह औसत लगी हैं। करण वाही ने अच्छा काम किया है। भावनात्मक दृश्यों में वह मौजूदगी दर्ज कराने में सफल रहे हैं। विवान भटेना की परफॉर्मेंस एवरेज है। वह अपनी भूमिका को इम्प्रेसिव नहीं बना पाए। सपोर्टिंग कास्ट में गुलशन ग्रोवर और इहाना ढिल्लों का काम ठीक है।
डायरेक्शन
निर्देशक विशाल पांड्या की इरोटिक थ्रिलर जोनर पर अच्छी पकड़ है। यह कहानी भी रिवेंज पर आधारित है, पर उन्होंने इसके ट्रीटमेंट में नयापन देने की कोशिश की है। स्क्रीनप्ले स्टाइलिश है, वहीं मिलाप झावेरी के लिखे संवाद जबरदस्त हैं। सिनेमैटोग्राफी और लोकेशंस आकर्षक हैं। गीत-संगीत औसत से ज्यादा नहीं है। हिमेश रेशमिया के सॉन्ग 'आशिक बनाया आपने' को रीक्रिएट किया गया है। बैकग्राउंड स्कोर लाउड है, जो अखरता है।

क्यों देखें
फिल्म में स्किन शो और मेलोड्रामा ज्यादा है। अगर इसके बजाय स्क्रीनप्ले व एक्टर्स की परफॉर्मेंस पर और मेहनत की जाती तो यह अच्छी सस्पेंस थ्रिलर बन सकती थी। बहरहाल, आपने इस सीरीज की पिछली फिल्मों से लव किया है तो 'हेट स्टोरी 4' भी आपके लिए एक और ऑप्शन है।