करप्ट सिस्टम को सबक सिखाती है Ungli

By: प्रीती जैन
| Published: 31 Dec 2014, 11:24 AM IST
करप्ट सिस्टम को सबक सिखाती है Ungli

चारों दोस्तों की उंगली गैंग अपराधियों और भ्रष्ट लोगों को विनम्रता से सबक सिखाना चाहती है।

मुंबई। इमरान हाशमी, कंगना रानाउत स्टारर फिल्म "उंगली" बॉक्स ऑफिस पर रिलीज हो गई। फिल्म भ्रष्टाचार के मुद्दे पर आधारित है। यूं तो फिल्म का सब्जेक्ट नया नहीं है। बॉलीवुड में पहले भी इस विषय पर फिल्में बन चुकी है।


कहानी- फिल्म में चार दोस्तों माया (कंगना रानाउत), अभय (रणदीप हुड्डा), गोटी (नील भूपलम), कलीम (अंगद बेदी) की कहानी है। माया एक हॉस्पिटल में इंटर्न है जबकि अभय क्राइम जर्नलिस्ट है। इनकी मुलाकात जिम में होती है और दोस्त बन जाते है। यह सभी भ्रष्टाचार से बेहद खफा है। ऎसे में एक गैंग बनाते है जिसका नाम है उंगली। इस गैंग का मकसद अपने दोस्त (अरूणोदय) के साथ हुई नाइंसाफी का बदला लेना है।


चारों दोस्तों की उंगली गैंग अपराधियों और भ्रष्ट लोगों को विनम्रता से सबक सिखाना चाहती है। इस गैंग का काम काम करने का तरीका बेहद अलग है। यह करप्ट लोगों को सजा भी देते है। कभी कोई पुलिसवाले को नोट खिलाता है, दूसरा वीडियो शूट करके चैनल को भेज देता है और वह उसे चला भी देता है।


कहानी में टि्वस्ट तब आता है कि जब पुलिस अफसर इमरान हाशमी को इस गैंग से निपटने के लिए कहा जाता है, वह गैंग के अंदाज से प्रभावित होकर वह भी उनके साथ हो जाता है। बाद में एसीपी काले (संजय दत्त) को गैंग को पकड़ने का जिम्मा दिया जाता है। आगे क्या होता है, इसे देखने के लिए दर्शकों को फिल्म देखनी होगी।


परफोर्मेस : इमरान हाशमी अपने किरदार में जमे है। वहीं रणदीप हुड्डा और संजय दत्त भी अपने रोल में खरे उतरे है। हालांकि क्वीन गर्ल कंगना इस बार पिछले फिल्मों के मुकाबले कमजोर नजर आई है। नेहा धूपिया, अंगद बेदी ठीक ठाक अदाकारी की है।


ऑवरऑल : डायलॉग डिलिवरी बेहतर है। स्क्रीप्ट अच्छी है लेकिन फिल्म को और भी बेहतर बनाया जा सकता था। फिल्म एक बार देखने लायक है।

निर्देशक : रेंजिल डिसिल्वा

कलाकार : इमरान हाशमी, कंगना रानाउत, नील भूपलम, रणदीप हुड्डा, अंगद बेदी, संजय दत्त
Show More