#BUDGET 2017: आम बजट से ये मिला रेलवे को, सिक्योरिटी और सर्विस पर फोकस

#BUDGET 2017: आम बजट से ये मिला रेलवे को, सिक्योरिटी और सर्विस पर फोकस
Budget 2017-18

 बसंत पंचमी पर वित्तमंत्री अरुण जेटली ने संसद में सालाना बजट(रेल/आम) सुबह 11 बजे पेश किया।

ग्वालियर। बसंत पंचमी पर वित्तमंत्री अरुण जेटली ने संसद में सालाना बजट(रेल/आम) सुबह 11 बजे पेश किया। इससे पहले ये आशंका जताई जा रही थी कि सांसद ई. अहमद के निधन के बाद बजट को गुरुवार तक के लिए टाला जा सकता है, लेकिन जेटली के बजट के दस्तावेज वाले बैग के साथ वित्त मंत्रालय पहुंचने के बाद ऐसे कयासों पर विराम लग गया है।

हालांकि इस दौरान कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खडग़े ने कहा कि आज बजट पेश करना अमानवीय होगा। लेकिन स्पीकर ने स्पष्ट कर दिया है कि बजट तो पेश करना ही होगा, ये संवैधानिक जिम्मेदारी है। ऐसा पहली बार हो रहा है जब रेल और आम बजट एक साथ पेश किए जाएंगे। नोटबंदी को साहसिक कदम बताते हुए संसद में जेटली ने कहा कि इससे भ्रष्टाचार पर लगाम लगेगी। बैंकों के कर्ज सस्ते कर सकेंगे। वहीं जीएसटी से महंगाई पर लगाम लगाई जा सकेगी।

यह भी पढें- बजट2017, शहरवासियों को यह हैं अपेक्षाएं
रेलवे की जरूरी बातें-
1. रेलवे सुरक्षा के लिए 1 लाख करोड़ का फंड
2. शेयर बाजार में उतरेगी आईआरसीटीसी
3. ई-टिकट पर सेवा प्रभार समाप्त
4. मानवरहित क्रासिंग 2020 तक खत्म किए जाएंगे।
5. आईआरसीटीसी से टिकट बुक कराने पर नहीं लगेगा सर्विस चार्ज
6. चुनिंदा 25 स्टेशनों का विकास किया जाएगा।
7. 3500 किमी की नई पटरियां बिछाने का लक्ष्य व तीर्थ स्थलों के लिए अलग से ट्रेन चलाई जाएगी।
8. सभी ट्रेनों में 2019 तक बॉयो टॉयलेट लगाए जाएंगे।
9. रेलवे से जुड़ी 3 कंपनियां शेयर बाजार में उतरेंगी
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned