#GIS_2016:गाइड लाइन से तीन गुना कीमत की जमीन पर बना मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक पार्क

#GIS_2016:गाइड लाइन से तीन गुना कीमत की जमीन पर बना मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक पार्क

सीएम से नहीं मिला समय, रेलवे अफसर दिखाएंगे हरी झंडी


इंदौर. ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट के दौरान रेलवे उपक्रम कॉनकोर मप्र को बड़ी सौगात देने जा रहा है। वह पीथमपुर से लगे टीही में मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक पार्क शुरू कर रहा है।
ऐनवक्त पर योजना बनने से मुख्यमंत्री से समय नहीं मिल पाया, लेकिन रेलवे अधिकारी कंटेनर वाली ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे। पीथमपुर के उद्योगों को राहत देने के लिए रेलवे का भारतीय कंटेनर निगम लिमिटेड (कॉनकोर) टीही में 500 करोड़ की लागत से मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक पार्क के लिए तीन साल से लगा हुआ था। डेढ़ साल पहले गाइड लाइन से तीन गुना कीमत चुकाकर उसने 90 एकड़ निजी जमीन खरीदी। इधर, रेलवे ने भी इंदौर-दाहोद लाइन का काम तेज कर दिया।

यह भी पढ़ें: टीही तैयार, जल्द पटरियों पर दौड़ेगा निर्यात का इंजन

टीही तक की लाइन लगभग तैयार हो गई है, जिसका फायदा अब कॉनकोर उठाने जा रहा है। इंदौर में 22 व 23 अक्टूबर को ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट है, जिसमें देश-विदेश के बड़े उद्योगपति आ रहे हैं। इस मौके पर कॉनकोर 22 अक्टूबर को अपनी कार्गो सेवा की औपचारिक शुरुआत करने जा रहा है। प्रयास था कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इसमें शिरकत करें, लेकिन समय नहीं मिल पाया। वहीं रेल मंत्री सुरेश प्रभु के कार्यक्रम तय हैं तो लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन विदेश दौरे पर हैं। ऐसे में रेलवे अधिकारी हरी झंडी दिखाएंगे।

train


उद्योगपतियों को फायदा
कॉनकोर के पार्क शुरू करने के बाद पीथमपुर के  उद्योगपतियों को खासा फायदा होगा। वर्तमान में उनका माल रतलाम रेलवे पर आता-जाता है। वहां से उन्हें भार वाहनों से लाना-ले जाना पड़ता है। इसकी वजह से लागत में काफी फर्क पड़ता है। अब कॉनकोर टीही से ही सेवा शुरू कर देगा तो उनका बड़ा खर्च बचेगा।

यह भी पढ़ें: ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट : तीन देशों के ही होंगे सेशन

पार्क का काम है बाकी
गौरतलब है कि रेलवे ने टीही तक ट्रैक तैयार कर दिया तो कॉनकोर ने भी अपने पार्क तक रैक पहुंचाने के लिए एक ट्रैक का निर्माण कर लिया है। वैसे तीन ट्रैक बनाए जाना हैं। शेड व अन्य काम शुरू हो गया है, जिसे पूरा होने में समय लगेगा।


train

70 करोड़ रुपए खर्च किए रेलवे ने
13 कमरों की स्टेशन बिल्डिंग तैयार, पटरियां भी बिछीं
200 करोड़ रुपए निवेश कंटेनर कॉर्पोरेशन का 
500 इंडस्ट्री लाभान्वित होंगी पीथमपुर की

ऐसे होगा फायदा

टीही में स्टेशन बन जाने से कंटेनर कार्पोरेशन डिपो पीथमपुर के उद्योगों का माल सीधे रेलवे की माल गाड़ी में लोड कर वाया 
रतलाम मुंबई या अन्य पोर्ट पहुंचाया जा सकेगा। भविष्य में दाहोद तक लाइन पूरी होने पर गुजरात पोर्ट पर भी सीधे परिवहन की सुविधा मिल जाएगी। एक मालगाड़ी में 100-200 कंटनेर भेजे जा सकेंगे, जबकि अभी एक ट्राले में 2 कंटेनर ही जापाते हैं।

यह भी पढ़ें: ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट : किआ से करार को बेकरार सरकार

नवंबर 2014 में रेल मंत्री सदानंद गौड़ा से चर्चा में टीही स्टेशन की बात हुई। उन्हें प्रस्ताव अच्छा लगा और काम शुरू हो गया। इससे रेलवे को किराए के रूप में बड़ा फायदा होगा और पीथमपुर का नाम पूरे देश में अव्वल होगा। 
नागेश नामजोशी, रेलवे विशेषज्ञ
खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned