30 साल पुराने गौशाला की जमीन पर डॉग शेल्टर बनाने की सिडको की साजिश

30 साल पुराने गौशाला की जमीन पर डॉग शेल्टर बनाने की सिडको की साजिश

Nagmani Pandey | Publish: Jun, 14 2019 07:00:00 AM (IST) Mumbai, Mumbai, Maharashtra, India

30 साल पुराने गौशाला की जमीन पर डॉग शेल्टर बनाने की सिडको की साजिश
-नागरिकों का विरोध, अधिकारियों को जताया आक्रोश
गौशाला पर डॉग शेल्टर का निकला टेंडर

नागमणि पांडेय
मुंबई. क़त्लखाने से बचाकर छुड़ाई गई गायों को जिस नवी मुंबई के पनवेल स्थित गोवर्धन गौशाला में पिछले 30 सालों से रखा जाता है, उस स्थल को सिडको डॉग शेल्टर के लिए देना चाहती है। इसके विरोध में गौशाला के सेवकों ने सिडको अध्यक्ष सहित एनीमल वेलफेयर बोर्ड को पत्र लिखकर गायों को बचाने की गुहार लगाई है।
केन्द्र और राज्य सरकार गौ संरक्षण व संवद्र्धन के लिए प्राथमिकता दे रही है, सिडको इसके विपरीत जाकर काम करना चाहती है। महाराष्ट्र के नवी मुंबई स्थित पनवेल के आसुड गांव में 1989 से गोवर्धन गौशाला चलाई जा रही है। इस गौ शाला में मुंबई, नवी मुंबई, ठाणे और रायगढ़ जिले से कत्लखाने से बचाई गई और घायल गायों को लाकर इसकी सेवा की जाती है।

चल रहा गायों का इलाज
गोवंश रक्षण संवर्धन संस्था संचालित इस गोवर्धन गोशाला में ढाई सौ से अधिक गाय हैं। इनमें से करीब 20 गाय गर्भवती हैं, 15 से 20 गाय ऐसी हैं जिनका उपचार चल रहा है। इनमें अधिकतर गायों को पुलिस ले कर आई है, जिन्हें गौवंश तस्करों से छुड़ाया गया है। यहां लाकर गायों को हर तरह की सेवा व जरूरी इलाज किया जाता है।

टेंडर से रोष
करीब 30 वर्ष से संचालित इस गौशाला को हटाकर डॉग शेल्टर के लिए टेंडर निकालने पर निवासियों में रोष है। गौ सेवकों ने इसके खिलाफ सिडको अधिकारियों को ज्ञापन सौंपा है। निवासियों का आरोप है कि प्रशासन कतिपय लोगों के इशारे पर गौशाला हटाकर डॉग शेल्टर बनाने का षडयंत्र कर रहा है। इस संदर्भ में गौशाला के खिमजी देवड़ा ने सिडको अध्यक्ष प्रशांत ठाकुर, महाराष्ट्र राज्य एनीमल वेलफेयर बोर्ड को पत्र लिख कर गायों को बचाने की मांग की है। देवड़ा ने बताया कि सभी पशुओं का संरक्षण होना चाहिए, डॉग शेल्टर का हमें विरोध नहीं, लेकिन जिस जगह पर हम 30 वर्ष से अधिक समय से गौ सेवा कर रहे हैं, आखिर उस जगह पर ही क्यों डॉग शेल्टर लाया जा रहा है। महाराष्ट्र राज्य एनीमल वेलफेयर बोर्ड की सदस्य एड. सिद्ध विद्या ने बताया की इतने पुराने गौशाला को हटाने की कोशिश गलत है, सिडको पहले इन गायों के लिए सुरक्षति जगह दे।


गायों की सुरक्षा का होगा उपाय
पूरी जानकारी लेकर गायों की सुरक्षा को लेकर योग्य कदम उठाया जाएगा। सरकार भी गायों को बचाने और उनके संवर्धन के पक्ष में है। इस मामले में गौशाला के लोगों से भी बात करेंगे।
--महादेव जानकर, पशु संवद्र्धन मंत्री, महाराष्ट्र सरकार

जब तक गायों को सुरक्षित व्यवस्था नहीं दी जाएगी, तब तक गायों को हटने नहीं दिया जाएगा।
--विधायक प्रशांत ठाकुर,अध्यक्ष ,सिडको

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned