भाजपा मंत्री का दावा, सीएम फडनवीस को हटाने का कोई इरादा नहीं

भाजपा मंत्री का दावा, सीएम फडनवीस को हटाने का कोई इरादा नहीं
file photo

| Publish: Jul, 26 2018 07:57:02 PM (IST) Mumbai, Maharashtra, India

भाजपा में आंतरिक विरोधियों और नौकरशाहों की एक बड़ी लॉबी सीएम फडनवीस को उनके पद से हटाने की कोशिश में जुटी थी

- रोहित के. तिवारी

मुंबई. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस को हटाने का किसी का भी कोई इरादा नहीं है। ऐसी कल्पना करना भी ठीक नहीं है। राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटिल का यह बयान शिवसेना नेता संजय राउत के दावे के बाद सामने आया है। राउत ने बुधवार को दावा किया था कि भाजपा खेमे में सीएम फडनवीस को बदलने की चर्चा चल रही है। मराठा आरक्षण को लेकर घिरी फडनवीस सरकार के खेमे में ऐसी बात पहली बार सामने आई है। सूत्रों की मानें तो भाजपा में आंतरिक विरोधियों और नौकरशाहों की एक बड़ी लॉबी सीएम फडनवीस को उनके पद से हटाने की कोशिश में जुटी थी। मराठा लॉबी ने पहले भी कई बार राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस पर हावी होने की काेशिश की लेकिन फडनवीस ने अपनी राह निकाल ली।

 

सीएम ने मराठा आरक्षण के लिए रास्ता निकाला

 

सीएम फडनवीस मराठा आरक्षण को लेकर विरोधियों की चाल को नाकामयाब करने में कामयाब रहे हैं। उनके समर्थक मंत्री पाटिल ने बताया कि मुख्यमंत्री को बदलने का कोई कारण नहीं है। बात रही मराठा आरक्षण की तो मैं उसके फेवर में हूं...। पाटिल ने कहा कि सीएम फडनवीस ने ही पेशवा शब्द को सरकार में शामिल किया है, जो विरोधियों के लिए चिंता का विषय है। उनकी रणनीति और जबर्दस्त प्लानिंग के चलते ही पहले जहां भीम-कोरेगांव दंगे में भी कानून-व्यवस्था बनी रही थी। मराठा आंदोलन में हिंसा पर काबू पाने के लिए उन्होंने फिर से बातचीत का रास्ता निकाला है।

 

हडताल फडनवीस को हटाने की रणनीति

 

उधर, सूत्रों का दावा है कि पिछले वर्ष जून में किसानों की हड़ताल और अभी कुछ दिन पहले ही दूध उत्पादकों का प्रदर्शन सीएम फडनवीस को हटाने की रणीनीति है। उनके ही एक मंत्री ने कहा कि फडनवीस को पीएम नरेंद्र मोदी का वरदहस्‍त। इसलिए उन पर आंच नहीं आ सकती। उल्‍लेखनीय है कि राज्य की जनसंख्या में सिर्फ 3.5 प्रतिशत ब्राह्मण हैं जबकि मराठा समुदाय की तादाद 35 फीसदी हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned