scriptBulli Bai App Case Mumbai Sessions Court Grants Bail To 3 Accused | Mumbai News: बुल्ली बाई ऐप केस के तीनों आरोपी छात्रों को मिली बेल, इस दलील पर राजी हुआ कोर्ट | Patrika News

Mumbai News: बुल्ली बाई ऐप केस के तीनों आरोपी छात्रों को मिली बेल, इस दलील पर राजी हुआ कोर्ट

बुल्ली बाई ऐप केस के तीन आरोपियों ओंकारेश्वर ठाकुर (Aumkareshwar Thakur), नीरज बिश्नोई (Neeraj Bishnoi) और नीरज सिंह (Neeraj Singh) को मुंबई सत्र न्यायालय ने जमानत दे दी है। अडवोकेट शिवम देशमुख के द्वारा दायर जमानत याचिका में बिश्नोई ने दावा किया था कि उन्हें मामले में झूठा फंसाया गया है, और तर्क दिया कि उनके सह-आरोपी को जमानत मिल चुकी है।

मुंबई

Updated: June 21, 2022 08:29:50 pm

मुंबई सत्र न्यायालय ने मंगलवार (21 जून) को बुल्ली बाई ऐप केस के तीन आरोपियों ओंकारेश्वर ठाकुर (Aumkareshwar Thakur), नीरज बिश्नोई (Neeraj Bishnoi) और नीरज सिंह (Neeraj Singh) को जमानत दे दी। अडवोकेट शिवम देशमुख के माध्यम से दायर अपनी जमानत याचिका में बिश्नोई ने दावा किया कि उन्हें मामले में झूठा फंसाया गया था, और तर्क दिया कि उनके सह-आरोपी को जमानत दे दी गई है। इससे पहले अप्रैल में शहर की बांद्रा मजिस्ट्रेट कोर्ट ने इस मामले के आरोपी विशाल कुमार झा, श्वेता सिंह और मयंक अग्रवाल को जमानत दे दी थी।
bulli_bai_app.jpg
मुंबई और दिल्ली पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। 1 जनवरी को बुल्ली बाई ऐप ने पत्रकारों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, छात्रों और प्रसिद्ध हस्तियों सहित एक विशेष धर्म की कई महिलाओं की तस्वीरें पोस्ट की थी। यह सुल्ली डील के विवाद के छह महीने बाद हुआ। अपमानजनक सुल्ली डील्स मोबाइल ऐप जुलाई 2021 में सामने आई थी, जहां मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें उनकी सहमति के बिना ऐप पर नीलामी के लिए डाल दी गई थीं।
यह भी पढ़ें

Mumbai News: रिटायर्ड पुलिस अधिकारी का शव मुलुंड में नाले में मिला, 3 दिन से थे लापता, परिवार ने खोला यह राज

छह महीने बाद, समुदाय की महिलाओं को परेशान करने और उन्हें निशाना बनाने की एक और घटना तब सामने आई जब दिल्ली की एक महिला पत्रकार ने दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि मोबाइल एप्लिकेशन पर कुछ अज्ञात लोगों द्वारा उन्हें निशाना बनाया जा रहा है। इस बार, ऐप को बुल्ली बाई नाम दिया गया था। इसे यूएस-आधारित गिटहब प्लेटफॉर्म पर बनाया गया था।
मामलों के मुख्य आरोपी की पहचान नीरज बिश्नोई के रूप में हुई, जिसने बुल्ली बाई ऐप बनाया और सुल्ली डील्स ऐप के निर्माता ओंकारेश्वर ठाकुर को दिल्ली पुलिस ने इसी साल क्रमश: 6 जनवरी और 8 जनवरी को गिरफ्तार किया था।
दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल की आईएफएसओ यूनिट ने आरोपी नीरज बिश्नोई को असम से पकड़ा था। बिश्नोई असम के जोरहाट गांव का रहने वाला है और बी.टेक, कंप्यूटर साइंस के द्वितीय वर्ष में पढ़ाई कर रहा था। उसने पिछले साल अक्टूबर में, उन महिलाओं की एक सूची बनाई थी, जिन्हें वह अपने डिजिटल उपकरणों, एक लैपटॉप और सेल फोन पर ऑनलाइन बदनाम करना चाहता था। वह पूरे सोशल मीडिया पर महिला कार्यकर्ताओं को ट्रेस कर रहा था और उनकी तस्वीरें डाउनलोड कर रहा था। बिश्नोई की गिरफ्तारी के ठीक दो दिन बाद 25 वर्षीय ओंकारेश्वर ठाकुर को मध्य प्रदेश के इंदौर से पकड़ा गया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

NSA अजीत डोभाल की सुरक्षा में चूक को लेकर केंद्र का बड़ा एक्शन, हटाए गए 3 कमांडो'रूसी तेल खरीदकर हमारा खून खरीद रहा है भारत', यूक्रेन के विदेश मंत्री Dmytro KulebaNagpur Crime: डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस के घर के बाहर मजदूर ने किया सुसाइड, मचा हड़कंपरोहिंग्या शरणार्थियों को फ्लैट देने की खबर है झूठी, गृह मंत्रालय ने कहा- केंद्र ने ऐसा कोई आदेश नहीं दियालालू यादव ने बताया 2024 का प्लान, बोले- तानाशाह सरकार को हटाना हमारा मकसद, सुशील मोदी को बताया झूठाPunjab Bomb Scare: अमृतसर में SI की गाड़ी में बम लगाने वाले दो आरोपी दिल्ली से गिरफ्तार, कनाडा भागने की फिराक में थेगुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका, वरिष्ठ नेता नरेश रावल और राजू परमार ने थामी भाजपा की कमानशाबाश भावना: यूरोप की सबसे बड़ी चोटी भी नहीं डिगा पाई मध्यप्रदेश की बेटी का हौसला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.