मुंबई में 160 करोड़ की डकैती से पहले सूरत में पकड़े गए

साधन सामग्री जुटाने के लिए सूरत में डाला था डाका

By: Chandra Prakash sain

Published: 07 Apr 2021, 07:59 PM IST

मुंबई/सूरत. डूमस में पिछले दिनों रिटायर्ड इंजीनियर की हत्या कर चार लाख रुपए की डकैती को अंजाम देने वाले पांच शातिर मुंबई में 160 करोड़ रुपए की बड़ी डकैती करने वाले थे। इस बड़ी डकैती को अंजाम देने के लिए ही उन्होंने डूमस में रिटायर्ड इंजीनियर भूपेन्द्र पटेल के यहां डाका डाला था। सूरत में बुधवार को आरोपियों के पकड़े जाने पर हत्या का खुलासा हुआ। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार इंजीनियर की हत्या और डकैती के मामले में पकड़े गए गोडादरा मां आनंदी हाइट्स निवासी विशाल वाणिया, प्रताप गीड़ा, केतन हडि़या, मुंबई के निकट कल्याण मुरबाड निवासी मिथुन उर्फ शेट्टी वाणियन व मुंबई के वरली वेस्ट प्रेम नजर झोपड़पट्टी निवासी पिन्टु उर्फ अर्जुन चौधरी है। आरोपियों ने बताया कि उन्होंने बदलापुर-मुंबई के वांगणी हाइवे पर स्थित एक बंगले की रेकी की थी। बंगले के सुरक्षा इंतजामों आदि की रेकी करने और डकैती की पुरी साजिश को अंजाम देने के लिए उन्हें रुपयों की जरूरत थी। इसीलिए उन्होंने डूमस में डकैती को अंजाम दिया। उनका इरादा था कि डूमस की डकैती में जो माल मिलेगा। उसका उपयोग कर वे बड़ी डकैती को अंजाम देंगे। इस बारे में भी पुलिस उनसे विस्तृत पूछताछ कर रही है तथा मुंबई पुलिस की मदद लेकर तस्दीक करने की कार्रवाई में भी जुटी है। हालांकि पुलिस इस बात का खुलासा नहीं कर रही है कि आरोपी जिस बंगले को निशाना बनाना चाहते थे वह किसका है। वहां इतनी बड़ी मात्रा में नकदी व कीमती सामान है भी या नहीं।

Chandra Prakash sain
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned