मर्डर मिस्ट्री: "मैया मैया" शब्द से लगा हत्या का सुराग , आरोपी यूपी के जंगल से गिरफ्तार

रात के अंधेरे में सड़क पर दौड़ती टैक्सी में युवक की हत्या

कॉटन ग्रीन हत्या का आरोपी यूपी के जंगल से गिरफ्तार
लूट के इरादे से की गई थी हत्या

नागमणि पांडेय
मुंबई. कॉटन ग्रीन स्टेशन के पास हुई एक व्यक्ति की हत्या का गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। मर्डर मिस्ट्री का पर्दाफाश करते हुए दो लोगों को उत्तर प्रदेश के जंगलों से काला चौकी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। मामले में तीसरे आरोपी की तलाश अभी भी जारी है। रात के अंधेरे में सड़क पर दौड़ती टैक्सी में इस हत्या को अंजाम दिया गया। पुलिस की पकड़ से बचने के लिए काला चौकी के पास घायल अवस्था में फेंके जाने का खुलासा हुआ है।
जानकारी अनुसार कॉटन ग्रीन स्थित बीपीटी पे एंड पार्क के रोड पर 23 नवंबर रात दो बजे एक युवक खून से लथपथ मिला था। काला चौकी पुलिस ने घायल युवक को अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया। उपचार से पहले ही युवक की मौत हो गई। इस मामले में काला चौकी पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया था। मामला दर्ज होने के बाद वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक संजय बसवंत के मार्गदर्शन में पुलिस निरीक्षक (क्राइम) हिरे और उनकी टीम जांच में जुट गई।

जांच के दौरान मृत युवक की पहचान करना पुलिस के लिए बड़ी चुनौती थी। अस्पताल में भर्ती कराने से पहले मृत युवक लगातार मैया-मैया पुकार रहा था। इसको ही पुलिस ने अपनी जांच का आधार बनाया। पूछताछ में पता चला कि मैया-मैया शब्द झारखंड का है। इसके बाद पुलिस ने जांच करते हुए चेंबूर में रहने वाले उसके परिवार तक पहुंची और मृत व्यक्ति की पहचान हो गई। उसका नाम सामदेव ईश्वर यादव (30 ) होने की जानकारी मिली। यादव कमाठीपुरा में एजेंट के तौर पर काम करता था। जांच में पुलिस को आरोपियों का सुराग लगा।

उत्तर प्रदेश के जंगल से किए आरोपी गिरफ्तार

पुलिस को जानकारी मिली की आरोपी हत्या के बाद से उत्तर प्रदेश फरार हो गया है | जिसके बाद एक टीम उत्तर प्रदेश जाकर कई दिनों तक उत्तर प्रदेश का वेश भूषा पहन कर घूमते रहे | जिसके बाद तीन दिसंबर को रवी महेश आनंद (32 ) और ऋतिक विनोद सुरिया इन दोनों को गिरफ्तार किया है | दोनों ने बताये की फरार आरोपी कार चला रहा था तो यादव के बगल में एक आरोपी बैठा था | गाडी लैमिंटन रोड पहुंचते ही यादव के पेट में चाक़ू मार दिए | उसके बाद आगे बैठा एक आरोपी ने उसका बाल पकड़ कर अपने तरफ खींच लिया | इसके बाद वापस पीठ पर हमला कर दिए | यह हत्या की घटना लगभग आधे घंटे तक सडको पर चलता रहा | 13 से अधिक वार करने के बाद कॉटन ग्रीन स्टेशन पहुंचते ही उन्हें पत्ता चला की आगे पुलिस है इसलिए वंही शव फेंक दिए | इस संदर्भ में काला चौकी पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक संजय बसवंत ने पत्रिका को बताया की गिरफ्तार आरोपी रवी अपराधी पृष्ट भूमि का है प्राथमिक जांच में पत्ता चला है की यादव के पास 60 हजार रुपए और मोबाईल लुटा गया है नशे के हालत में इस हत्या को अंजाम है दिया गया है | फिलहाल फरार आरोपी की तलाश है उसके गिरफ़्तारी के बाद ही हत्या के असली कारणों का पता चल सकता है |

Show More
Nagmani Pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned