देश का पहला कोरोना केयर आश्रम बीपीटी में

बीपीटी के अध्यक्ष संजय भाटिया ने बताया कि अस्पताल में कोरोना मरीजों की संख्या और डॉक्टरों पर बढ़ते दबाव को देखते हुए कोरोना केयर आश्रम बनाया गया है। यहां पर कोरोना पीड़ित 50 वर्ष से कम आयु के मरीजों का उपचार किया जाएगा। बिना लक्षण वाले मरीजों को आश्रम में भर्ती किया जाएगा। भर्ती करने से पहले मरीज को दो दिन अस्पताल में रखकर जरूरी जांच की जाएगी।

By: Dheeraj Singh

Published: 22 Jun 2020, 05:11 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मुंबई.मुंबई में कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए अब दवाओं के साथ साथ मरीजों का इलाज योग, ध्यान और आध्यात्मिक तरीके से करने की तैयारी की गई है। इसके लिए मुंबई में देश का पहला 70 बेड वाला कोरोना केयर आश्रम का निर्माण बीपीटी (बॉम्बे पोर्ट ट्रस्ट) की ओर से अपने अस्पताल की करीब दो एकड़ क्षेत्र में किया गया है।

बीपीटी के अध्यक्ष संजय भाटिया ने बताया कि अस्पताल में कोरोना मरीजों की संख्या और डॉक्टरों पर बढ़ते दबाव को देखते हुए कोरोना केयर आश्रम बनाया गया है। यहां पर कोरोना पीड़ित 50 वर्ष से कम आयु के मरीजों का उपचार किया जाएगा। बिना लक्षण वाले मरीजों को आश्रम में भर्ती किया जाएगा। भर्ती करने से पहले मरीज को दो दिन अस्पताल में रखकर जरूरी जांच की जाएगी।योग, ध्यान और अन्य आध्यात्मिक तरीकों से मरीजों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ा, उन्हें ठीक किया जाएगा।

मरीज को रोज 1 घंटा योग, 90 मिनट ध्यान और करीब 30 मिनट आध्यात्मिक चर्चा की जाएगी। साथ ही मरीज को आयुर्वेदिक काढा भी दिया जाएगा। इस दौरान मरीजों की सेहत में सुधार हो रहा है कि नहीं इसकी जांच के लिए दिन में दो बार जांच की जाएगी। वीडियो और ऑनलाइन पद्धति से मरीजों को आध्यात्मिक उपचार किया जाएगा।

 

Dheeraj Singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned