दामानी ने फिर चौंकाया, 1001 करोड़ में बंगला खरीदा

दक्षिण मुंबई के मालाबार हिल इलाके में है यह प्रापर्टी

By: Chandra Prakash sain

Published: 03 Apr 2021, 08:43 PM IST

मुंबई. कोरोना की तेज रफ्तार फिर से डराने लगी है। लॉकडाउन की आहट भर से लोग सहम गए हैं। कई शहरों में लगे नाइट कफ्र्यू के चलते रोजी-रोजगार के अवसरों पर भी खतरा मंडरा रहा है। पेट्रोल-डीजल सहित जरूरी जिंसों की महंगाई लोगों के पसीने छुड़ा रही है। रोजमर्रा के इस्तेमाल की चीजें छोड़ दें तो बाकी उद्योग मंदी का रोना रो रहे हैं। तमाम प्रतिकूल संकेतों के बीच डीमार्ट के प्रमोटर के प्रमोटर राधाकृष्ण दामानी ने एक बार फिर चौंकाया है। शेयर बाजार के बड़े निवेशकों में शुमार दामानी ने मुंबई में 1001 करोड़ रुपए का बंगला खरीदा है। मिली जानकारी अनुसार 80 साल से भी ज्यादा पुरानी यह प्रॉपर्टी दक्षिण मुंबई के मालाबार हिल इलाके में स्थित है। फोब्र्ज इंडिया की 2020 की रिपोर्ट के मुताबिक दामानी देश के चौथे सबसे बड़े धनकुबेर हैं। माना जा रहा कि मुंबई में यह सबसे महंगा प्रॉपर्टी सौदा है।
डेढ़ एकड़ में फैला बंगला
दामानी ने जो बंगला खरीदा है, उसका नाम मधु कंज है। दो मंजिला यह बंगला डेढ़ एकड़ में फैला है। इसका क्षेत्रफल 5,752 वर्ग फुट है। यह प्रॉपर्टी ब्रिटिश हुकूमत के दौर में मुंबई के रईसों में शामिल रहे प्रेमचंद रायचंद फैमिली की है। दामानी और उनके भाई गोपीकिशन ने यह बंगला रायचंद फैमिली के वारिसों से खरीदा है।
30 करोड़ स्टैंप ड्यूटी
मधु कुंज बंगले का बाजार मूल्य 724 करोड़ रुपए है। यह प्रीमियम लोकेशन पर स्थित है। इसीलिए दामानी ने ज्यादा कीमत चुकाई है। बंगले का सौदा 31 मार्च को हुआ। दामानी और उनके भाई ने 30 करोड़ रुपए स्टैंप शुल्क जमा किया है।
वीआईपी इलाका
मालाबार हिल इलाके में देश के कई रईस रहते हैं। यहां पर मुख्यमंत्री सहित कई मंत्रियों के बंगले हैं। केंद्र और राज्य सरकार के बड़े अधिकारी भी यहां रहते हैं। इसलिए यह वीआईपी परिसर माना जाता है। यहां एक वर्ग फुट की कीमत 70 हजार से 80 हजार के बीच है।
एक कमरे में गुजारा कर चुके
हजार करोड़ रुपए का बंगला खरीदने वाले दामानी एक कमरे के घर में परिवार सहित गुजारा कर चुके हैं। मेहनत से उनकी किस्मत बदली है। इनकी कंपनी एवेन्यू सुपरमाट्र्स डीमार्ट शृंखला का संचालन करती है। फोब्र्ज के मुताबिक 2020 में दामानी की मिल्कियत 15.4 बिलियन डॉलर थी।
पहला मामला नहीं
मायानगरी में महंगी प्रॉपर्टी खरीदने का यह कोई नया मामला नहीं है। पूनावाला ग्रुप के चेयरमैन सायरस पूनावाला ने 2015 में 750 करोड़ रुपए में लिंकोन हाउस खरीदा था। कोरोना रोधी टीका कोविशील्ड बनाने वाली सीरम इंस्टीट्यूट इन्हीं की कंपनी है, जिसकी कमान उनके बेटे आदर पूनावाला के हाथ है।

कोरोना वायरस
Chandra Prakash sain
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned