प्रेमिका ने फिल्म ‘दृश्यम’ की स्टाइल में प्रेमी को उतारा मौत के घाट

प्रेमिका ने फिल्म ‘दृश्यम’ की स्टाइल में प्रेमी को उतारा मौत के घाट

Nagmani Pandey | Updated: 13 Aug 2019, 08:10:29 PM (IST) Mumbai, Mumbai, Maharashtra, India

प्रेमिका ने फिल्म ‘दृश्यम’ की स्टाइल में प्रेमी को उतारा मौत के घाट

जिसे अत्यधिक शराब पीने से मरा माना, उसकी हुई हत्या

पुलिस ने आरोपी महिला को किया गिरफ्तार

 

नागमणि पांडेय

मुंबई . वडाला के गणेश नगर में पुलिस जिस 30 वर्षीय युवक की मौत को शराब पीने से मान रही थी, उसकी हत्या हुई थी। पुलिस ने मामले को सुलझाते हुए युवक की प्रेमिका को गिरफ्तार किया | जांच में खुलासा हुआ कि विवाहित प्रेमिका के लिए प्रेमी जी का जंजाल बन गया था । परेशान होकर उसने फिल्म दृश्यम की तर्ज पर प्रेमी की हत्या को अंजाम देकर मामले को अत्यधिक शराब पीकर मरना बता दिया।

वडाला पुलिस ने 27 वर्षीय विजेन्द्र नकटे की हत्या के आरोप में काजल पाटिल को गिरफ्तार किया | 15 जून को गणेश नगर में निर्माणाधीन इमारत के पास वीराने में विजेन्द्र की लाश मिली थी। घटनस्थल पर पुलिस को न तो संदेहास्पद चीजें मिलीं, न ही शरीर पर कोई जख्म या चोट के निशान । पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया । डॉक्टरों ने भी पोस्मार्टम के दौरान प्रारंभिक जांच में शराब अधिक पीने से मौत का अनुमान लगाया । इसके बाद पुलिस ने एफआइआर दर्ज कर जांच करने के बजाय केस फाइल बंद करने का मानस बना लिया।

सैंडिल ने खोला मौत का राज

विजय की मौत के बाद पुलिस ने घटनास्थल का पंचनामा किया तो शव के मिली उसकी सैंडिल से थोड़ा संदेह हुआ, क्योंकि कोई शराबी या तो चप्पल कहीं छोड़ सकता है या गिरते समय चप्पल-जूते उसके पैर में पहने होने चाहिए । लेकिन दम तोड़ने से पहले उसने बगल में अच्छे तरीके से सैंडिल को उतार कर रखा होगा, यह थ्योरी पुलिसको हजम नहीं हुई। पुलिस ने विसरा जांच और फोरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार किया । इस दौरान जांच भी जारी रखी। पुलिस ने अनुमान लगाया कि विजेंद्र की मौत कहीं और हुई और किसी ने शव को लाकर वहां फेंक दिया । इसके बाद सैंडिल को शव के पास छोड़ दिया ।

प्रेमिका का नाम आते ही संदेह गहराया

विजेंद्र के भाई विकास ने पुलिस को बताया कि काजल के साथ उसे भाई के प्रेम संबंध थे। दो साल पहले काजल की शादी सातारा के व्यवसायी से कर दी गई। लेकिन इसके बाद भी वह विजेंद्र के संपर्क में थी। विजेंद्र अक्सर काजल को मिलने सातारा जाता था। काजल से पूछताछ करने पुलिस सातारा गई तो उसने शादी के बाद विजेन्द्र से मुलाकात की बात से इंकार कर दिया। लेकिन पुलिस को उसकी बातों पर यकीन नहीं हुआ ।

दावत के बहाने बुलाकर दिया चूहे मारने वाला जहर

पुलिस को काजल ने बताया कि वट पूर्णिमा व्रत के दिन उसने मां के घर विजेंद्र को दावत पर बुलाया। उस दिन खाना खाने के बाद वह वापस चला गया। पुलिस ने काजल के माता-पिता, पति और बच्चों से पूछा तो उन्होंने भी एक शब्द इधर-उधर किए बिना यही बात दोहराई। सबके रटे-रटाए बयानों से पुलिस को दाल में काला होने का विश्वास हो गया। वे काजल को पूछताछ के लिए थाने ले आए। यहां कड़ाई से हुई पूछताछ में सच सामने आ गया। काजल ने बताया कि शादी के बाद वह पति के साथ खुश थी । लेकिन विजेंद्र परेशान कर रहा था। वह पति से अलग होकर साथ रहने को दबाव बना रहा था, इसलिए उसकी हत्या की योजना बना डाली। उसने विजेंद्र को मां के घर दावत पर बुलाया और खाने में चूहे मारने वाला जहर मिला दिया। इसके बाद जमकर शराब पिलाई। जहर और शराब के प्रभाव से विजेंद्र को तकलीफ होने लगी तो वह चला गया। अगले दिन उसकी शव निर्माणाधीन इमारत के पास मिलने की जानकारी सामने आने के बाद पूरे परिवार को कहानी बनाकर सुना दी ।

काजल के बयानों पर पुलिस को यकीन नहीं
पुलिस यही मान रही है कि विजेंद्र की मौत काजल के घर में हुई, जबकि उसकी शव बाद में वहां लाकर फेंका गया। फिलहाल पुलिस ने काजल को गिरफ्तार कर लिया है और परिवार के अन्य सदस्यों की भूमिका की भी जांच कर रही है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned