महाराष्ट्र: ​​कर्ज से परेशान किसान ने चुनी दर्दनाक मौत, जलती चिता में कूद की खुदखुशी

महाराष्ट्र: ​​कर्ज से परेशान किसान ने चुनी दर्दनाक मौत, जलती चिता में कूद की खुदखुशी

Prateek Saini | Publish: Apr, 17 2018 04:13:03 PM (IST) Mumbai, Maharashtra, India

सप्ताह भर में किसानों की आत्महत्या का तीसरा मामला...

(यवतमाल/महाराष्ट्र): महाराष्ट्र राज्य के जिले यवतमाल में एक 75 वर्षीय किसान ने कथित तौर पर आत्मदाह करके खुदकुशी कर ली। खबर की मानें तो फसल खराब होने और कर्ज की वजह से बुजुर्ग किसान ने आत्महत्या कर ली। हालांकि स्थानीय पुलिस ने केवल अप्राकृतिक मौत का एक मामला दर्ज किया है और मामले की जांच की जा रही है। यह घटना दो दिन पहले उमरखेद तहसील के सवलेश्वर में हुई थी। पीड़ित के बेटे जीएम रावते ने बताया कि किसान माधव शंकर रावते ने अपने खेत में एक पेड़ के नीचे चिता जलाई और पेड़ पर चढ़ कर, उसमें कूद गए।

बकाया था करीब 60000 रुपये
बेटे ने दावा किया कि रावते के चार एकड़ में फैले खेत में लगी कपास की फसल कीड़ों के हमले के कारण नष्ट हो गई और उन्हें केवल तीन क्विंटल फसल ही मिल पाई। उन्होंने बताया कि उनके पिता पर करीब 60,000 रुपये का कर्ज बकाया था। बिटेरगांव थाना के एक अधिकारी ने बताया कि कथित खुदकुशी के सही कारण का अभी पता नहीं चल सका है और पुलिस ने अप्राकृतिक मौत का मामला दर्ज कर जांच शुरू की है।

सप्ताह भर में किसानों की आत्महत्या का तीसरा मामला

सप्ताह भर में राज्य में किेसी किसान के कर्ज के कारण आत्महत्या करने का यह तीसरा मामला सामने आया है। इससे पहले भंडारण में शुक्रवार को भी एक किसान ने कर्ज से परेशान होकर आत्महत्या करने का रास्ता अपनाया। एक हफ्ते पहले भी यवतमाल जिले से ही एक ऐसा मामला सामने आया था, जहां फसल खराब होने की वजह से एक किसान ने खुदकुशी कर ली थी और अपने सुसाइड़ नोट में अपनी मौत का जिम्मेदार प्रधानमंत्री और उनके मंत्रियों को बताया था।

यह भी पढ़े: महाराष्ट्र न्यूज़: कर्ज से परेशान होकर किसान ने की आत्महत्या

यह भी पढ़े: आसाराम को जेल में ही सुनाया जाएगा फैसला, समर्थकों के हंगामे की आशंका के चलते लिया गया निर्णय

Ad Block is Banned