मीरा-भायंदर की हरि सत्संग समिति जुटी है मानव सेवा में

मीरा-भायंदर की हरि सत्संग समिति जुटी है मानव सेवा में

Chandra Prakash sain | Updated: 04 Jun 2019, 06:19:57 PM (IST) Mumbai, Mumbai, Maharashtra, India

सुदूर इलाकों के वनवासियों को समृद्ध करना है एक मात्र मिशन

समिति एक मिशन है यह मिशन मानव सेवा का है

मीरा भायंदर. एकल अभियान के तहत देश के सुदूर इलाकों में शिक्षा का प्रसार करने वाली देश में समाजसेवा के लिए विख्यात श्री हरिसत्संग समिति देश में शिक्षा के साथ ही संस्कार और सुरक्षा पर कार्य कर रही है।
श्री हरि सत्संग समिति की क्षेत्रीय समितियों में से एक मीरा भायंदर समिति के अध्यक्ष मनोज अग्रवाल बताते हंै कि समिति एक मिशन है और यह मिशन मानव सेवा का है, जिसे समिति से जुड़े सभी सदस्य भली भांति जानते हंै। शिक्षा सुरक्षा प्राचीन गौरवशाली संस्कृति के प्रति देश में जागरूकता फैलाने का कार्य समिति बखूबी कर रही है। चार लाख गांवों में बसे वनवासी बंधुओं में धार्मिक अस्मिता और उन्हें स्वावलंबी के जोड़े रखने का कार्य समिति के सदस्य कर रहे हैं।

क्षेत्रीय समिति से सैकड़ों लोग जुड़े हंै
समिति का लक्ष्य है 1 .2 लाख वनवासी जनजातियों के गांवों में संस्कार केन्द्रों की स्थापना करना। अधिक से अधिक परिवारों को वनवासी रक्षा परिवार योजना से जोडऩे का काम ,30 करोड़ वनवासी समाज को नगरीय समाज से जोडऩे और उन्हें ऊर्जावान बनाना ,महिलाओं और युवाओं को वनवासी रक्षा परिवार योजना में मुख्य रूप से जोडऩे का कार्य ,भारतीय संस्कृति और धार्मिक कार्यक्रमों को बढ़ावा देना। अधिक से अधिक वनवासी क्षेत्रों में यात्राओं का आयोजन करना है। मनोज अग्रवाल समिति को लेकर बताते हंै कि समिति से देश के नामी गिरामी लोग जुड़े हैं समिति की 10 क्षेत्रीय समितियां हंै, जो अपने अपने क्षेत्र में कार्यरत है। मीरा भायंदर क्षेत्रीय समिति से सैकड़ों लोग जुड़े हंै। हम मीरा भायंदर में हनुमान जन्ममहोत्सव के साथ भागवत कथा का आयोजन करते हैं। समाज के हर तबके के लोग शामिल होते है।
बढ़ता जा रहा है कारवां
समिति के मुंबई अध्यक्ष विनोद लाट के मार्गदर्शन में समिति का कारवां बढ़ते जा रहा है। समिति एकल विद्यालय जैसी कारगर योजना को चला रही है। जिसमें एक गांव एक शिक्षक है योजना के तहत शिक्षा का प्रचार प्रसार किया जा रहा है। संस्कार शिक्षा से धर्म सत्ता को जगाएंगे गांव गांव जा कर प्रेम की गंगा बहाएंगे के जैसे ब्रीद वाक्यों के साथ समिति के सदस्य समाजसेवा की मिशाल कायम किये हुए है। मीरा भायंदर क्षेत्रीय समिति के अध्यक्ष मनोज अग्रवाल बताते हैं कि श्री हरी सत्संग समिति आज देश भर में श्री हरी सत्संग समिति के 54 हजार से अधिक वनवासी गांवो में संस्कार केंद्र चलाए जा रहे है समिति के 2 लाख संस्कार केन्द्रो के संकल्प को प्राप्त करने के लिए पूर्ण श्रद्धा और विश्वास के साथ प्रयासरत है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned