Maha Education: कैसे पूरा होगा अप्रैल की परीक्षाओं का सिलेबस, पाठ्यक्रम को सीधे ऑनलाइन पूरा कराने का निर्णय...

छात्रों को घर ( Home ) पर पढ़ा सकते हैं शिक्षक ( Teachres ), वेबसाइट ( Website ) और पोर्टल ( Portal ) का विकल्प, कैसे पूरा होगा अप्रैल ( April ) की परीक्षाओं का सिलेबस ( Syllabus ), पाठ्यक्रम को सीधे ऑनलाइन ( Online ) पूरा कराने का निर्णय...

By: Rohit Tiwari

Published: 19 Mar 2020, 12:48 PM IST

मुंबई. राज्य सरकार ने कोरोना वायरस के चलते 31 मार्च तक स्कूल बंद करने के फैसले की घोषणा की। इसलिए अप्रैल की परीक्षाओं तक सिलेबस को पूरा करने का सवाल अब स्कूल प्रशासन के समक्ष उठ रहा है। इसके चलते मुंबई के कुछ स्कूलों ने छात्रों के पाठ्यक्रम को सीधे ऑनलाइन पूरा कराने का निर्णय लिया है। इसके लिए, स्कूलों ने वेबसाइट और पोर्टल का विकल्प चुना है, जिसके माध्यम से शिक्षकों को सूचित किया गया है कि शिक्षक छात्रों को घर पर पढ़ा सकते हैं।

नए मार्किंग व सिलेबस पैटर्न होगा आधार

पाठ्यक्रम को पूरा करने पर जोर...
कोरोना रोगियों की संख्या में हो रहे इजाफा के चलते शिक्षा विभाग ने सुरक्षा कारणों से राज्य के सभी स्कूलों में छुट्टियां देने के निर्णय की घोषणा की है। जबकि सरकारी स्कूल के शिक्षकों को स्कूल में उपस्थित होने का आदेश दिया गया है, निजी स्कूल संचालकों ने भी शिक्षकों को छुट्टी दे दी है। स्कूल बंद होने के कारण छात्र का पाठ्यक्रम पूरा न हो पाने की संभावना है। इसलिए मुंबई के कई निजी स्कूलों ने छात्रों को ऑनलाइन कोर्स पूरा करने के लिए प्राथमिकता दी है। कुछ स्कूलों ने वेबसाइट के माध्यम से और कुछ स्कूलों ने स्वतंत्र पोर्टल के माध्यम से छात्रों के पाठ्यक्रम को पूरा करने पर जोर दिया है।

देश में सभी स्कूल, कॉलेज और मॉल 31 मार्च तक बंद

 

Maha Education: कैसे पूरा होगा अप्रैल की परीक्षाओं का सिलेबस, पाठ्यक्रम को सीधे ऑनलाइन पूरा कराने का निर्णय...

10 से 15 छात्रों से एक साथ संपर्क...
मुंबई के बांद्रा कुर्ला कॉम्पलेक्स स्थित अकॅसेन्ड इंटरनेशनल स्कूल ने कुछ वेबसाइटों के माध्यम से पाठ्यक्रम पूरा करने पर जोर दिया है। शिक्षक के नाम पर एक आईडी बनाई गई है और इसे छात्रों को दिया गया है। वेबसाइट से शिक्षक वीडियो कॉल के माध्यम से एक साथ 10 से 15 छात्रों से संपर्क कर सकते हैं, और शिक्षक छात्रों को दस्तावेज़, पावर पॉइंट प्रस्तुतियां प्रदान कर सकते हैं। वहीं शिक्षिका झरना खांडेकर को माने तो शिक्षक यह समझेंगे कि छात्र क्या कर रहे हैं, इसलिए उनकी निगरानी करना आसान हो जाएगा।

CTET-2019: परीक्षा 8 दिसंबर को, ये रहेगा Exam Pattern

मोबाइल एप से भी करें पढ़ाई...
स्कूलों की ओर से उपयोग की जाने वाली विभिन्न वेबसाइटों का उपयोग ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के लिए किया जा सकता है। इन वेबसाइटों को लैपटॉप और डेस्कटॉप के साथ-साथ मोबाइल ऐप के माध्यम से लॉन्च भी किया जा सकता है। इसलिए जिन छात्रों के पास लैपटॉप और डेस्कटॉप नहीं हैं, वे मोबाइल ऐप से ऑनलाइन पाठ्यक्रमों का अध्ययन भी कर सकते हैं।

इस ऑनलाइन पाठ्यक्रम के ज़रिए लोग रहेंगे खुश, सरकार की नई पहल

Show More
Rohit Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned