Maha Mhada News: 9,140 घरों की लॉटरी पर फिर फंसा पेंच, अब इस महीने निकलेगी कोंकण बोर्ड की लॉटरी...

पुलिस ( Police ) और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों ( Class IV Employees ) को 10 प्रतिशत घर देने की वजह से हो रही लेट-लतीफी, 9,140 घरों की लॉटरी ( Lottary ) पर फिर फंसा पेंच, अब मार्च अंत तक निकलेगी कोंकण बोर्ड ( Konkan Board ) की लॉटरी

मुंबई. म्हाडा में कोंकण बोर्ड की ओर से नौ हजार 140 घरों की लॉटरी में एक बार फिर पेंच फंसता दिख रहा है। सूत्रों को माने तो आम तौर पर लॉटरी एक महीने में निकलने वाली थी, जबकि अब यह लॉटरी मार्च के अंत तक निकलने मि संभावना है। बताया जा रहा है कि पुलिस कर्मियों और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के लिए सरकारी योजनाओं की हर योजना में दस प्रतिशत घर देने की घोषणा को लेकर लॉटरी की व्यवस्था फिलहाल स्थगित कर दी गई है। अब लॉटरी का विज्ञापन आवास विभाग की ओर से प्रस्ताव मंजूर होने के बाद ही निकाला जाएगा।

Maha Mhada News: अन्ना भाऊ साठे और डॉ. बाबासाहेब अम्बेडकर की बनेगी राष्ट्रीय स्मारक

एक महीना और इंतजार...
राज्य सरकार ने म्हाडा के घरों में पुलिस और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के लिए दस प्रतिशत घर आरक्षित करने की योजना बनाई है। आवास मंत्री जितेंद्र आव्हाड ने पहले ही घोषणा की है कि आरक्षित घरों को पीएमएवाई योजना और म्हाडा के विभिन्न बोर्डों में लॉटरी के माध्यम से दिया जाएगा। हालांकि म्हाडा के कोंकण बोर्ड की ओर से फरवरी के पहले सप्ताह में लॉटरी निकालने की तैयार पूरी कर ली गई थी, लेकिन राज्य सरकार के सरकारी कर्मचारियों को दस प्रतिशत घर आरक्षित करने को लेकर प्रस्ताव पास होने में करीब महीना भर लगने वाला है। इसलिए अब कोंकण बोर्ड की 9,140 घरों की लॉटरी के लिए लोगों को करीब एक महीना और इंतजार करना होगा।

Mhada में हो रहे भ्रष्टाचार के खुलासे, इन तीन अधिकारियों पर गाज गिरना तय ?

 

Maha Mhada News: 9,140 घरों की लॉटरी पर फिर फंसा पेंच, अब इस महीने निकलेगी कोंकण बोर्ड की लॉटरी...

छोटे और निम्न आय वर्ग के घर...
इस लॉटरी में घर ठाणे, नवी मुंबई, कल्याण (पलावा), शिरढोण जैसे विभिन्न स्थानों पर उपलब्ध होंगे। दरअसल इस लॉटरी में पुलिस और चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों के लिए 910 घर आरक्षित होंगे, इसलिए आम लोगों के घरों की संख्या थोड़ी कम हो जाएगी। म्हाडा की कोंकण मंडल लॉटरी में ठाणे में 100 घर, नवी मुंबई में 40, कल्याण पलावा में डेवलपर्स को ओर से मिलने वाले 20 प्रतिशत दो हजार घर शामिल हैं, जबकि म्हाडा की विभिन्न परियोजनाओं में से छह हजार समेत अंतिम लॉटरी के शेष 1000 घर के तहत कुल 9, 140 घर शामिल हैं। वहीं म्हाडा के कोंकण बोर्ड की माने तो इस लॉटरी में घर छोटे और निम्न आय वर्ग के लिए शामिल होंगे।

मुंबई में पुनर्विकास की बांट जोह रहीं हजारों इमारतें, सरकार के इस रवैये से हुआ बुरा हाल ?

Show More
Rohit Tiwari Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned