माल्या को लेकर महाराष्ट्र सरकार की नई चिंता

माल्या को लेकर महाराष्ट्र सरकार की नई चिंता
file photo

| Publish: Aug, 02 2018 08:25:29 PM (IST) Mumbai, Maharashtra, India

आरटीआई से खुलासा हुआ है कि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई स्थित ऑर्थर जेल में 2844 कैदी सजा काट रहे हैं, जबकि जेल की क्षमता सिर्फ 804 कैदियों की है

- रोहित के. तिवारी
मुंबई. आरटीआई से खुलासा हुआ है कि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई स्थित ऑर्थर जेल में 2844 कैदी सजा काट रहे हैं, जबकि जेल की क्षमता सिर्फ 804 कैदियों की है। इस जेल में जहां अंडरवल्र्ड लेकर राजनेता तक सजा काट चुके हैं, वहीं शीना बोरा मर्डर केस की मुख्य आरोपी इंद्राणी मुखर्जी भी इसी जेल में कैद है। साथ ही विजय माल्या जैसे देश के भगोड़े कर्जदार को भी सरकार प्रत्यर्पण कर इसी जेल में लाने की तैयारी में है। बहरहाल, एक्टिविस्ट सईद मियां की आरटीआई से जेल में बंद कैदियों की चौंका देने वाली रिपोर्ट उजागर हुई है। सईद मियां ने जेल की अव्यवस्था को लेकर राज्य के गृह विभाग में अडिशनल चीफ सेक्रेटरी समेत मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस को इस मामले में जल्द संज्ञान लेने की नोटिस भी दे दी और उचित कार्यवाही न होने पर आरटीआई कार्यकर्ता बॉम्बे हाई कोर्ट में पीआईएल दायर करने की तैयारी में हैं।

 

विजय माल्या के प्रत्यर्पण में फंसा पेंच...


विदित हो कि 13 जून 2018 को आरटीआई के तहत सईद ने ऑर्थर रोड जेल प्रशासन से 25 मई से 31 मई तक कैदियों की क्षमता की जानकारी मांगी थी, जिसके तहत चौंका देने वाली रिपोर्ट में पता चला कि 804 कैदियों की क्षमता वाली जेल में 2844 कैदी सजा काट रहे हैं। आरटीआई के तहत जेल प्र्रशासन से मिली जानकारी की माने तो 25, 26, 27, 28, 29, 30 व 31 मई को जेल में कैदियों की संख्या क्रमश: 2844, 2817, 2819, 2809, 2769, 2790 व 2766 थी। बहरहाल, हाल ही में विजय माल्या को प्रत्यर्पण के लिए लंदन कोर्ट ने सरकार से जो जानकारी मांगी है, उसमें सरकार ने यूके की कोर्ट में एफिडेविड दिया है कि माल्या के लिए ऑर्थर जेल की बैरक नंबर 12 सुरक्षित है। लेकिन जेल की हकीकत सामने आने के बाद सरकार के समक्ष समस्या खड़ी हो गई है कि वह किस तरह से वीडियो बनाकर लंदन कोर्ट को सौंपे, जिससे पता चल सके कि विजय माल्या के लिए ऑर्थर रोड जेल पूरी तरह सुरक्षित है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned