scriptMaharashtra Politics: Big Set back for Uddhav Thackeray, 66 Shiv Sena corporators join CM Shindes group | Maharashtra Politics: उद्धव ठाकरे को फिर लगा तगड़ा झटका, अब ठाणे नगर निगम के 67 में से 66 पार्षद शिंदे खेमे में हुए शामिल | Patrika News

Maharashtra Politics: उद्धव ठाकरे को फिर लगा तगड़ा झटका, अब ठाणे नगर निगम के 67 में से 66 पार्षद शिंदे खेमे में हुए शामिल

महाराष्ट्र में सियासी घमासान थमता नहीं दिख रहा है। इसी कड़ी एम् उद्धव ठाकरे को फिर बड़ा झटका लगा है। बताना चाहते हैं कि ठाणे नगर निगम के 67 में से 66 पार्षद एकनाथ शिंदे खेमे में चले गए हैं।

मुंबई

Published: July 07, 2022 01:16:21 pm

मुंबई: महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे की बगावत के बाद से ही शिवसेना में सियासी घमासान जारी है। इसी कड़ी में विधानसभा के बाद उद्धव ठाकरे को नगर निगम में भी तगड़ा झटका लगा है। बताना चाहते हैं कि ठाणे नगर निगम के 67 में से 66 पार्षद शिंदे खेमे में चले गए हैं। इन सभी पार्षदों ने बुधवार को एकनाथ शिंदे से मुलाकात की थी।
Uddhav Thackeray-Eknath Shinde
Uddhav Thackeray-Eknath Shinde
ठाणे नगर निगम के 66 पार्षदों का जाना उद्धव ठाकरे के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। वैसे मुंबई नगर निगम के बाद ठाणे दूसरी सबसे अहम और बड़ी नगर निगम गिनी जाती है। दरअसल इन पार्षदों के जाने की सबसे बड़ी वजह यह है कि ठाणे में एकनाथ शिंदे का मजबूत पकड़ है। उन्होंने अपनी सियासत भी यहीं से शुरू की थी। साल 1997 में पार्षद का चुनाव उन्होंने ठाणे से ही जीता था। वे साल 2001 में नगर निगम सदन में विपक्ष के नेता भी रहे थे।
यह भी पढ़ें

Maharashtra Politics: शिवसेना के एक बागी विधायक का बड़ा दावा, कहा- 12 सांसद जल्द शिंदे खेमे में होंगे शामिल

साल 2004 में एकनाथ शिंदे ने ठाणे विधानसभा सीट से चुनाव में जीत हासिल की थी। फिर 2009, 2014 और 2019 में ठाणे की कोपरी पछपाखडी सीट से जीतते आए हैं। इससे पहले राज्य में जारी सियासी घमासान के कारण उद्धव ठाकरे को सीएम पद से इस्तीफा देना पड़ा था। जिसके बाद एकनाथ शिंदे ने बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बनाई और वे सीएम बने हैं। जबकि भाजपा के देवेंद्र फडणवीस डिप्टी सीएम बने हैं।
उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव के बाद एकनाथ शिंदे ने बगावत की थी। शिंदे शिवसेना के बागी विधायकों के साथ गुजरात के सूरत पहुंचे थे। फिर यहां से सभी के साथ गुवाहाटी गए थे। शिवसेना में बगावत का ही नतीजा था कि उद्धव की अगुवाई वाली महा विकास अघाड़ी सरकार गिर गई।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

गालीबाज भाजपा नेता पर रखा गया 25 हजार का इनाम, 40 टीमें तलाश में जुटीMumbai: मनी लॉन्ड्रिंग केस में संजय राउत को बड़ा झटका, PMLA कोर्ट ने ED कस्टडी 22 अगस्त तक बढ़ाईMaharashtra Coal Scam: दिल्ली कोर्ट का फैसला- पूर्व कोयला सचिव एचसी गुप्ता को 3 और कंपनी डायरेक्टर को 4 साल की जेलबिहार में सियासी उलटफेर की आंशका, CM नीतीश कुमार ने सोनिया गांधी से की बात, सभी विधायकों को बुलाया पटनाखाटूश्यामजी हादसा: दो शवों की भी हुई शिनाख्त, पीएम मोदी ने जताया दुख, सीएम ने की जांच व मुआवजे की घोषणाMaharashtra: महाराष्ट्र में मंत्रिमंडल विस्तार जल्द, जानें BJP में कब शुरू होगी प्रदेश अध्यक्ष बदलने की प्रक्रियावेंकैया नायडू को विदाई में पीएम मोदी भावुक, कहा - 'आपके साथ काम करना हमारा सौभाग्य'Bihar Politics: राजद और JDU मिल जाए तो बिहार में आराम से बन सकती है सरकार, जानिए क्या है आंकड़े
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.