scriptMaharashtra Politics Sushilkumar Shinde left police job on my behest Sharad Pawar narrated story of his friendship | Maharashtra: ‘...मेरी आंखों में आंसू आ गए थे’, शरद पवार ने सुनाया सुशील कुमार शिंदे से जुड़ा अनसुना किस्सा | Patrika News

Maharashtra: ‘...मेरी आंखों में आंसू आ गए थे’, शरद पवार ने सुनाया सुशील कुमार शिंदे से जुड़ा अनसुना किस्सा

locationमुंबईPublished: Oct 03, 2022 05:09:15 pm

Submitted by:

Dinesh Dubey

Sharad Pawar on Sushilkumar Shinde Friendship: एनसीपी (NCP) नेता शरद पवार ने कहा, सुशील कुमार शिंदे ने मेरे कहने पर पुलिस विभाग की नौकरी छोड़ी थी। उन्होंने शिवसेना की आगामी दशहरा रैली पर भी प्रतिक्रिया दी है।

Sharad Pawar on Sushilkumar Shinde
शरद पवार और सुशील कुमार शिंदे
Sharad Pawar on Sushilkumar Shinde: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) प्रमुख शरद पवार और कांग्रेस नेता सुशील कुमार शिंदे की दोस्ती को लेकर हमने कई किस्से पढ़े होंगे। कहा जाता है कि इनकी दोस्ती राजनीति से परे है। इसका प्रमाण खुद शरद पवार ने दिया है। पुणे में उन्होंने कांग्रेस नेता से जुड़ा अपनी दोस्ती का एक और अनसुना किस्सा सुनाया है।
पुणे में एक कार्यक्रम में बोलते हुए एनसीपी (NCP) नेता शरद पवार ने कहा, सुशील कुमार शिंदे ने मेरे कहने पर पुलिस विभाग की नौकरी छोड़ी थी। मैंने उन्हें आश्वासन दिया था कि उन्हें उपचुनाव में विधायक का टिकट मिलेगा। लेकिन उन्हें मैं टिकट नहीं दिला पायातो मेरी आंखों में आंसू आ गए।
यह भी पढ़ें

Maharashtra Politics: एकनाथ खडसे की होगी ‘घर वापसी’? अमित शाह और देवेंद्र फडणवीस से जल्द करेंगे मुलाकात

उन्होंने आगे कहा “मैं उस सरकार में गृह मंत्री बना था। चूंकि शिंदे कानून में ग्रेजुएट थे, इसलिए मैंने उन्हें सरकारी वकील बना दिया। हमारे पास जो भी मामले आते थे, उसे हमने शिंदे को देने का फैसला किया। बाद में अगले चुनाव में शिंदे को टिकट दिलाने में कामयाब हो गया। इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।“
पुणे नवरात्रि महोत्सव 2022 (Pune Navratri Utsav 2022) में हर साल दिया जाने वाला 'महर्षि' पुरस्कार इस साल एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार द्वारा सुशील कुमार शिंदे को दिया गया। इस कार्यक्रम की अगुवाई पूर्व विधायक उल्हास पवार ने की। जबकि मुख्य अतिथि के तौर पर पूर्व राज्य मंत्री विश्वजीत कदम मौजूद रहे।

शिवसेना की दशहरा रैली पर दी प्रतिक्रिया

इस मौके पर शरद पवार ने कहा कि दशहरा रैली को लेकर राज्य में जो राजनीति हो रही है वह दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने कहा “एक पार्टी दो हिस्सों में भले ही बंट गई हो, लेकिन इससे राज्य का राजनीतिक माहौल खराब नहीं हो, इस बात का ध्यान प्रमुख नेताओं को रखना चाहिए। हम जैसे सीनियर्स नेताओं से भी चर्चा करनी चाहिए। दशहरा रैली में जो भी रुख अपनाया जाता हैं, उससे कड़वाहट नहीं बढ़नी चाहिए।“

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

गुजरात चुनावः आसान नहीं है रिवाबा की राह, ननद के बाद अब ससुर भी कांग्रेस के पक्ष मेंआरबीआई एक दिसंबर को लॉन्च करेगा रिटेल डिजिटल रुपयासरकारी कार्यक्रम में भड़कीं ममता बनर्जी, भाषण बीच में रोक अधिकारियों को लगाई फटकारआफताब 1 दिसम्बर को उगलेगा सच, नार्को टेस्ट के लिए दिल्ली पुलिस को मिली मंजूरी'द कश्मीर फाइल्स' को IFFI ज्यूरी ने बताया 'वल्गर प्रोपगंडा', अनुपम खेर ने कहा-' शर्मनाक'सोनिया गांधी के कहने पर कांग्रेस अध्यक्ष खरगे ने पीएम मोदी को कहा रावण : संबित पात्राबिहारः हेडमास्टर को देख भागे रेपिस्ट, फिर मास्टर बना हैवान, लूट ली नाबालिग बच्ची की इज्जतबीसीसीआई का बड़ा एक्शन!, टीम इंडिया के सीनियर खिलाड़ियों की टी20 से होगी छुट्‌टी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.