ठगी:सस्ती यौन शक्ति बढ़ाने वाली दवाएं मुहैया कराने की करते थे पेशकश

अंधेरी पूर्व स्थित एमआईडीसी क्षेत्र में क्राइम ब्रांच पुलिस की कार्रवाई
फर्जी कॉल सेंटर पर छापा, दो आरोपी गिरफ्तार

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

मुंबई. फर्जी कॉल सेंटर पर छापा मार कर क्राइम ब्रांच पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपी एमआईडीसी पुलिस थाना इलाके में यह फर्जी कॉल सेंटर चलाते थे। अमरीका फोन कर भारत में प्रतिबंधित दवाइयां वहां भेजने का झांसा देकर ठगी करते थे। आरोपी अमेरिकी लहजे में अंग्रेजी में उनसे बात करते थे और यौन शक्ति बढ़ाने की दवाओं की पेशकश कम दाम पर करते थे। क्राइम ब्रांच को इस फर्जी कॉल सेंटर के बारे में सूचना मिली थी। मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
मिली जानकारी के मुताबिक जब पुलिस ने छापा मारा तब कॉल सेंटर में 22 लोग मौजूद थे। यह लोग किसी अमरीकी से अंग्रेजी में बात कर रहे थे। खुद को अमरीकी बताते हुए यह लोग ऑनलाइन पेमेंट करने पर सस्ते दाम में दवाइयां उन्हें उपलब्ध कराने का झांसा देते थे।

ऑनलाइन भुगतान
सीनियर इंस्पेक्टर सुनील माने ने बताया कि आरोपी एमएम कॉल कनेक्ट नाम से इसे चलाते थे। वहां कंप्यूटर पर बैठे लोगों के पास लिखी हुई स्क्रिप्ट रखी होती थी, जिस आधार पर बातचीत होती थी। आरोपी उन्हें लालच देते थे कि यदि ऑनलाइन भुगतान किया तो बेहद कम कीमत पर वायग्रा जैसी अन्य दवाएं मुहैया कराई जाएंगी।
नहीं करते थे डिलीवरी
सूत्रों के मुताबिक भुगतान मिलने के बाद आरोपी ग्राहक को सामान की डिलीवरी नहीं भेजते थे। आरोपी फाइटर ड्रग्स के रूप में पहचानी जाने वाली ट्रामाडोल, प्रोपेसिया, सिंथेराइड, सोमा, अमॉक्सीलिन जैसी प्रतिबंधित दवाएं भी ऑनलाइन बेचते थे। पुलिस ने कॉल सेंटर चलाने वाले मुदस्सर मकानदार और मैनेजर ऐश्ले डिसूजा को गिरफ्तार किया है।

Show More
Nagmani Pandey Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned