Mumbai News : 85 साल की दादी करती हैं लाठी से स्टंट, हर कोई अचंभित

  • हौसला: बुजुर्ग महिला के लिए आजीविका का सहारा बना मार्शल आर्ट
  • वायरल वीडियो को देख चुके हैं 10 लाख से ज्यादा लोग
  • अभिनेता सोनू सूद ने आमंत्रित किया

By: Binod Pandey

Published: 24 Jul 2020, 11:16 PM IST

ओमसिंह राजपुरोहित
पुणे. कोमल है कमजोर नहीं तू, शक्ति का नाम ही नारी...गीतकार इंदीवर की यह कविता 85 साल की शांताबाई पवार पर बिलकुल फिट बैठती है। जिस उम्र में अधिकांश बुजुर्ग रोजमर्रा की जरूरतों के लिए परिवार पर निर्भर रहते हैं, यह दादी मां बेधड़क लाठी भांजती हैं और तरह-तरह के स्टंट भी करती हैं। हडपसर के वैदवाडी गोसावी निवासी बुजुर्ग दादी के करतब देख लोग अचंभित हुए बिना नहीं रहते।

कोरोना संकट के दौर में उनकी लाठी कला ही परिवार की आजीविका का साधन बन गई है। पुणे के पुलिस आयुक्त के. व्यंकटेश भी उनके प्रशंसकों में हैं। राष्ट्रीय सेविका समिति के शिविरों में उन्होंने लाठी चलाने की कला सीखी। प्रैक्टिस के जरिए धीरे-धीरे वे अपने इस हुनर में नई चीजें जोड़ती गईं। सड़कों-चौराहों पर खड़ी होकर जब वे दोनों हाथों से लाठियां (दो) भांजती हैं, करतब दिखाती हैं तो देखने वाले दांतों तले अंगुली दबा लेते हैं। उनके कौशल की सराहना हर कोई करता है। कुछ लोगों ने उनका वीडियो बना कर सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। यह वीडियो अब तक 10 लाख से ज्यादा लोग देख चुके हैं। 12 हजार से ज्यादा लाइक्स भी मिले हैं।

Mumbai News : 85 साल की दादी करती हैं लाठी से स्टंट, हर कोई अचंभित

फिल्मों से नाता
मिली जानकारी अनुसार पवार का हिंदी फिल्मों से भी नाता है। सीता और गीता, त्रिशूल और शेरनी जैसी फिल्मों वे अपने करतब दिखा चुकी हैं। रोजी-रोटी से जुड़ी मजबूरी के चलते इस उम्र में भी वे लाठी से करतब दिखाती हैं।

सोनू सूद ने सराहा
अभिनेता सोनू सूद ने दादी के कौशल को सराहा है। उन्होंने अपने ट्वीटर पर लिखा, क्या मुझे इनकी जानकारी मिल सकती है। एक छोटा-सा ट्रेनिंग स्कूल खोलना चाहता हूं, जहां वे महिलाओं को आत्मरक्षा के गुर सिखा सकें। कई और हस्तियों ने दादी के ज ज्बे और हौसले की तारीफ की है।

Show More
Binod Pandey
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned